61 फीसद लोगों ने समलैंगिक विवाह के पक्ष में, बन सकता है कानूनUpdated: Thu, 16 Nov 2017 10:46 AM (IST)

कानून बन जाने के बाद ऑस्ट्रेलिया समलैंगिक विवाह को मान्यता देने वाला दुनिया का 26वां देश होगा। सबसे पहले नीदरलैंड्स में वैध किया गया था।

कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया में दो माह तक चले सर्वे में 61 प्रतिशत लोगों ने समलैंगिक विवाह को वैध करने के पक्ष में मतदान दिया है। नेशनल पोस्टल सर्वे के परिणाम की बुधवार को घोषणा की गई, जिसके बाद समलैंगिक विवाह के समर्थकों ने देशभर में जश्न मनाया।

परिणाम आने के बाद प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने कहा, 'लोगों ने निष्पक्षता, प्रतिबद्धता और प्यार के पक्ष में मतदान किया है। समलैंगिक विवाह को कानूनी रूप से वैध बनाने के लिए क्रिसमस से पहले संसद में विधेयक पेश किया जाएगा।'

12 सितंबर से शुरू हुए इस सर्वे में देश के 1.27 करोड़ यानी 79.5 फीसद लोगों ने भाग लिया। 38 प्रतिशत लोगों ने इसके विरोध में मतदान किया। विपक्षी लेबर पार्टी के नेता बिल शॉर्टेन ने भी परिणाम का स्वागत किया है।

सरकार द्वारा समलैंगिक विवाह को मान्यता देने के निर्णय पर ओलंपिक चैंपियन तैराक इयान थोर्प, कांटास एयरलाइंस के मालिक एलन जॉयस, लेखक और अभिनेता मागडा जुबान्सकी ने भी खुशी जताई है। कानून बन जाने के बाद ऑस्ट्रेलिया समलैंगिक विवाह को मान्यता देने वाला दुनिया का 26वां देश होगा।

अभी 25 देशों में मान्यता

समलैंगिक विवाह को सबसे पहले नीदरलैंड्स में वैध किया गया था। अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन, कनाडा, जर्मनी, बेल्जियम, दक्षिण अफ्रीका, नार्वे आदि में भी यह वैध है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.