हिंदी समेत सभी भारतीय भाषाओं में आएगा भीम ऐपUpdated: Thu, 05 Jan 2017 09:48 PM (IST)

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को छात्रों से अपील की कि वे डिजिटल साक्षरता के वाहक बनें।

नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को छात्रों से अपील की कि वे डिजिटल साक्षरता के वाहक बनें। भीम ऐप हिंदी सहित सभी भारतीय भाषाओं में भी जल्द शुरू किया जाएगा। वह हिंदू कॉलेज के सभागार में छात्रों और शिक्षकों को डिजिटल फाइनेंशियल लिटरेसी कैंपेन के तहत संबोधित कर रहे थे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि लोगों की मानसिकता बदलना एक बड़ी चुनौती है।

डिजिटल सेवा के बारे में परिवार को बताएं। स्वयं सीखकर दूसरों को सिखाएं। डेबिट कार्ड का हर जगह इस्तेमाल करें। प्रीपेड कार्ड लेकर कर्मचारियों और घरेलू सहायकों को भी दे सकते हैं। डिजिटल लेनदेन से जवाबदेही तय होगी।

उन्होंने कहा कि देश के 500 शहरों में 60 फीसद कैश ट्रांजेक्शन होता है, इसलिए यहां पहले सुधार की जरूरत है। पहले 20 फीसद पेट्रोल पंपों पर डिजिटल ट्रांजेक्शन होता था, अब 70 फीसद होता है। देश आगे बढ़ रहा है। युवाओं के पास अवसर हैं और वे बदलाव के लिए तैयार हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मंत्रालय ने कई योजनाओं की शुरुआत की है, जिसके प्रचार-प्रसार की जरूरत है। उन्होंनें छात्रों से कहा कि आप लोग कम पैसों में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, लेकिन इस पर खर्च अधिक है। यह खर्च जनता के टैक्स से आता है।

हर छात्र पर कर चुकाने वाले व्यक्ति का उधार है, इसलिए आप समाज के लिए कुछ करें। हम विश्वस्तरीय विश्वविद्यालय बनाना चाहते हैं। जावड़ेकर ने कहा कि 118 साल पुराना हिंदू कॉलेज और यहां के छात्र आज आधुनिक हैं।

डीयू के कुलपति प्रो. योगेश त्यागी ने कहा कि डीयू ने डिजिटल की तरफ कदम बढ़ा दिया है। 10 लाख ट्रांजेक्शन हुए, लेकिन किसी तरह की शिकायत नहीं मिली।

वालेंटियर बनने की अपील की

जावड़ेकर ने छात्रों से मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) की वेबसाइट पर जाकर डिजिटल कैंपेन कार्यकर्ता बनने की भी अपील की। वालेंटियर बनने के बाद छात्र के ईमेल पर उनके हस्ताक्षर वाला पत्र मिलेगा।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.