सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा भारत, विराट की निगाहें रिकॉर्ड परUpdated: Wed, 02 Aug 2017 05:39 PM (IST)

टीम इंडिया गुरुवार से श्रीलंका के खिलाफ शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच को जीतकर सीरीज पर कब्जा जमाने के इरादे से मैदान में उतरेगी।

कोलंबो। कप्तान विराट कोहली की टीम इंडिया गुरुवार से कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच को जीतकर सीरीज पर कब्जा जमाने के इरादे से मैदान में उतरेगी। भारत इस समय तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे हैं।

कोहली रच सकते हैं इतिहास

अगर भारत कोलंबो टेस्ट जीत जाता है तो कोहली पहले ऐसे भारतीय कप्तान बन जाएंगे जिन्होंने श्रीलंका की सरजमीं पर लगातार दो बार सीरीज़ जीत दर्ज़़ की हो। विराट की कप्तानी में टीम इंडिया ने वर्ष 2015 में अपनी पिछली सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की थी जो 22 वर्षों में भारत के लिए श्रीलंका की जमीन पर टेस्ट सीरीज जीतने का दूसरा मौका था। इससे पहले 1993 में पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन के नेतृत्व में भारतीय टीम ने श्रीलंका को मात दी थी।

केएल राहुल की वापसी तय

दूसरा मैच सिंघली स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर खेला जाएगा। भारत ने पहले मैच में 304 रनों से मेजबानों को मात दी थी। इस मैच में शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली ने शतक जड़े थे। पहले मैच में सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल बुखार के कारण नहीं खेले थे। अब वह ठीक हैं और टीम में वापसी करेंगे। ऐसे में पिछले मैच की शिखर धवन और अभिनव मुकुंद की सलामी जोड़ी में से किसी एक को टीम से बाहर जाना पड़ेगा। मुकुंद के बाहर जाने की संभवाना ज्यादा है। हालांकि उन्होंने मैच की दूसरी पारी में 81 रनों की पारी खेली थी, लेकिन धवन के अनुभव को देखते हुए वह राहुल के साथ पारी का आगाज करने के प्रबल दावेदार हैं।

इसके अलावा भारतीय टीम में कोई और बदलाव की संभावना दिखाई नहीं देती। विराट के अलावा अंजिक्य रहाणे, हार्दिक पांड्या ने भी अपने बल्ले का दम दिखाते हुए अर्धशतक जमाए थे।

गेंदबाजी में भी टीम में बदलाव की संभवना कम ही है। स्पिन का दारोमदार रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की जोड़ी पर होगा। वहीं तेज गेंदबाजी में मोहम्मद शमी और उमेश यादव ने भी अच्छा प्रदर्शन किया था।

कोहली की टीम अपने प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश में होगी। नए मुख्य कोच रवि शास्त्री ने सीरीज से पहले ही कहा था कि उनकी कोशिश नंबर-1 टेस्ट टीम रैंकिंग को बरकरार रखने की होगी। उनके लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए टीम किसी भी हालत में मैच को हल्के में नहीं लेगी।

वहीं मेजबानों के लिए यह एक और मुश्किल मुकाबला होगा। पहले टेस्ट में वह भारत के सामने किसी भी क्षेत्र में टिक नहीं पाई थी और चोटों से जूझती भी दिखी थी। पहले दिन के पहले घंटे के बाद से उसके खेल को देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसने हार मान ली है। हालांकि इस मैच में उसके नियमित कप्तान दिनेश चांदीमल वापसी कर रहे हैं। उनके आने से टीम को मानसिक मजबूती के साथ बल्लेबाजी में धार और अनुभव मिलेगा।

असेला गुणारत्ने चोट के कारण सीरीज से बाहर हो गए हैं उनकी जगह टीम में लाहिरु थिरिमाने को शामिल किया गया है। उनके अंतिम एकादश में शामिल किए जाने की संभावना ज्यादा है।

टीम के सबसे अनुभवी स्पिन गेंदबाज रंगना हैराथ उंगली में चोट से जूझ रहे हैं। वह अगले मैच में खेलेंगे या नहीं इस बात का पता मैच के दिन ही चलेगा। पहले मैच में नुवान प्रदीप ने अच्छी गेंदबाजी की थी। वह इस मैच में भी श्रीलंका की उम्मीदों का भार उठाएंगे।

टीमें (इनमें से):

भारत : विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), लोकेश राहुल शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, रिद्धिमान साहा, ईशांत शर्मा, उमेश यादव, हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, कुलदीप यादव, अभिनव मुकुंद।

श्रीलंका : दिनेश चांडीमल (कप्तान), एंजेलो मैथ्यूज, उपुल थरंगा, दीमुथ करुणारत्ने, निरोशन डिकवेला, कुशल मेंडिस, धनंजय डी सिल्वा, दानुष्का गुनाथिलका, लाहिरू कुमारा, विश्व फनार्डो, नुवान प्रदीप, रंगना हेराथ, दिलरुवान परेरा, मलिन्दा पुष्पककुमार, लक्षण संदनकान, लाहिरू थिरिमाने।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.