तीसरा टेस्ट शुरू होने से पहले ही कप्तान कोहली ने बनाया यह रिकॉर्डUpdated: Sat, 12 Aug 2017 10:05 AM (IST)

अभी तक कोहली की कप्तानी में भारत ने 28 टेस्ट खेले हैं और उन्होंने कभी भी एक जैसी अंतिम एकादश नहीं उतारी है।

कैंडी। भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का तीसरा और आखिरी टेस्ट शनिवार से कैंडी में शुरू हो गया। टीम इंडिया में रविंद्र जडेजा के स्थान पर कुलदीप यादव को मौका दिया गया है। इसके साथ ही एक अनोखा रिकॉर्ड कप्तान विराट कोहली के नाम हो गया है।

दरअसल, अभी तक कोहली की कप्तानी में भारत ने 28 टेस्ट खेले हैं और उन्होंने कभी भी एक जैसी अंतिम एकादश नहीं उतारी है। यानी हर मैच में कम से कम एक खिलाड़ी तो जरूर बदला है। उनकी कप्तानी के इस 29वें टेस्ट में भी यही चलन जारी रहा। मालूम हो, पिछले टेस्ट के हीरो जडेजा निलंबन की वजह से इस मैच में नहीं खेल रहे हैं।

यह टेस्ट जीतते ही बनेगा ऐसा रिकॉर्ड

भारत ने 1932 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण के बाद से 85 साल में कोई पूर्ण टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। यदि कोहली तीसरा टेस्ट जीतकर ऐसा कर पाते हैं, तो यह काबिले तारीफ होगा।

यह भी आश्चर्य की बात है कि भारत ने अपनी सरजमीं पर भी टेस्ट सीरीज में अधिक वाइटवॉश नहीं किए हैं। भारत ने अभी तक चार ही सीरीज ऐसी खेली हैं, जिसमें सारे मैच जीते हैं। मुहम्मद अजहरुद्दीन की अगुआई में 1993 में इंग्लैंड को 3-0 से हराना और श्रीलंका पर 1994 में 3-0 से मिली जीत इसमें शामिल है।

महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 2013 की घरेलू सीरीज में 4-0 से हराया था। पिछले साल कोहली की कप्तानी में न्यूजीलैंड पर 3-0 से जीत दर्ज की थी।

विदेशी सरजमीं पर यादगार टेस्ट सीरीज में कपिल देव की कप्तानी में इंग्लैंड में 1986 में तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से मिली जीत, पाकिस्तान पर 2004 में 2-1 से जीत और श्रीलंका पर 2015 में 2-1 से जीत शामिल है।

भारत ने टाइगर पटौदी की कप्तानी में 1967-68 में न्यूजीलैंड में 3-1 से जीत दर्ज की थी। दो टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत ने बांग्लादेश (2004-05), जिंबाब्वे (2005-06) और बांग्लादेश (2009-10) का सूपड़ा साफ किया था।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.