हार्दिक पांड्या को बताया जा रहा भविष्य का कपिल देवUpdated: Sun, 13 Aug 2017 07:25 PM (IST)

मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद को लगता है कि हार्दिक पांड्या में दिग्गज कपिल देव जैसा प्रदर्शन करने की क्षमता है।

नई दिल्ली। मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद को लगता है कि हार्दिक पांड्या में दिग्गज कपिल देव जैसा प्रदर्शन करने की क्षमता है, बशर्ते यह ऑलराउंडर अपने खेल पर ध्यान लगाए रखे। मुंबई इंडियंस के लिए टी-20 विशेषज्ञ के तौर पर खेलने वाले बड़ौदा के युवा ऑलराउंडर हार्दिक ने अपनी पहली ही टेस्ट सीरीज में श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट में शतक जड़ा।

हार्दिक ने अपने पहले शतक में सात गगनचुंबी छक्के जड़े, जिसके बाद प्रसाद ने कहा, 'यदि वह अपने खेल पर ध्यान लगाए रखता है तो मुझे पूरा भरोसा है कि आने वाले दिनों में उसकी तुलना दिग्गज कपिल देव से की जाएगी।'

कपिल के 1994 में संन्यास लेने के बाद भारत को उनके जैसी काबिलियत रखने वाला कोई ऑलराउंडर नहीं मिला है। इरफान पठान को स्विंग गेंदबाजी और आक्रामक बल्लेबाजी की वजह से उनकी तरह माना जा रहा था, लेकिन चोटों और खराब फॉर्म से वह भी इस ओर नहीं बढ़ सके।

अपनी गंभीरता के बावजूद स्टुअर्ट बिन्नी के पास हार्दिक जैसी प्रतिभा नहीं है। प्रसाद से जब पूछा गया कि भारत की भविष्य के ऑलराउंडर की खोज खत्म हो गई है तो उन्होंने कहा, 'हां।' भारत के इस पूर्व विकेटकीपर ने कहा, 'मुझे यह कहते हुए खुशी हो रही है कि हमारी ऑलराउंडर की खोज हार्दिक के रूप में सफल रही।'

मुख्य चयनकर्ता इस बात से ज्यादा संतुष्ट हैं कि हार्दिक ने मौजूदा सीरीज में अपने शतक और अर्धशतक से अब खुद को सभी प्रारूपों में स्थापित कर लिया है। प्रसाद ने कहा, 'वह पहले ही छोटे प्रारूपों (वनडे और टी-20) में खुद को स्थापित कर चुका है और इस टेस्ट सीरीज ने उसे लंबे प्रारूप में खुद को स्थापित करने का अच्छा मंच दिया है। उसने मौके का पूरा फायदा उठाया और वह इसमें सफल रहा।'

यह पूछने पर कि हार्दिक को क्या चीज विशेष बनाती है तो प्रसाद ने कहा, 'वह एथलीट है और उत्साह से भरा रहता है। वह काफी सकारात्मक भी है। उसके बारे में सकारात्मक चीज यही है कि सभी तीनों विभागों बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण में उसकी बेसिक्स काफी मजबूत हैं।'

हार्दिक को टीम प्रबंधन से काफी समर्थन मिला है, जिसमें कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि यह 23 वर्षीय खिलाड़ी बड़ी ऊंचाइयां हासिल करेगा। कोहली ने गॉल टेस्ट में हार्दिक के पहले अर्धशतक के बाद कहा था, 'मुझे ऐसी कोई वजह नजर नहीं आती कि वह भारत के लिए वही काम क्यों नहीं कर सकता जो इंग्लैंड के लिए बेन स्टोक्स कर रहा है।'

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.