गूगल ने भोपाल में शुरू की देश की पहली "ट्रांसलेशन कम्युनिटी"Updated: Wed, 13 Apr 2016 11:34 PM (IST)

इसके लिए एमसीयू के ऐसे छात्रों की एक टीम बनाई गई है, जिन्हें हिंदी-अंग्रेजी का बेहतर ज्ञान है।

भोपाल। गूगल की ऑनलाइन अनुवाद सुविधा को अंग्रेजी-हिंदी-अंग्रेजी और अन्य भारतीय भाषाओं में सटीक बनाने का जिम्मा माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय (एमसीयू) को मिला है। 10वें विश्व हिंदी सम्मेलन में उठे मुद्दे के बाद हाल ही में गूगल की तकनीकी टीम ने शहर में देश की पहली "ट्रांसलेशन कम्युनिटी" की शुरुआत कर दी है। इसके लिए एमसीयू के ऐसे छात्रों की एक टीम बनाई गई है, जिन्हें हिंदी-अंग्रेजी का बेहतर ज्ञान है। 'ट्रांसलेशन कम्युनिटी" के तहत सभी छात्र हिंदी व अन्य भारतीय भाषाओं का शब्दकोष समृद्ध बनाएंगे।

इससे फायदा क्या होगा?

हिंदी का इंटरनेट पर प्रयोग बढ़ेगा और दुनिया में बढ़ावा मिलेगा। गूगल के तकनीकी विशेषज्ञ प्रवीण दास ने बताया, हम अंग्रेजी से भारतीय भाषाओं और इनके आपस में अनुवाद का स्तर 100 प्रतिशत तक ले जाएंगे। अन्य भाषाओं की शुद्धता 95 प्रतिशत तक है। गूगल ने वाक्यों के अनुवाद को बेहतर करने का लक्ष्य बनाया है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.