दुनिया की इन डरावनी जगहों पर क्या जाना चाहेंगे आप

Publish Date:Wed, 26 Oct 2016 05:49 PM (IST)

यह डरावना चिल्ड्रेन वार्ड न्यूयॉर्क के रॉकलैंड मनोरोग केंद्र का है। एक मनोरोग फैसिलिटी थी, जिसे 1930 के दशक में बनाया गया था और कभी यहां 9000 बच्चे रहा करते थे। मगर, आज यहां कोई नहीं रहता है।

फिलीपींस में सगाडा में लटकते हुए ताबूत हैं। यहां की इगोरोट जनजाति के लोग चट्टानों की चोटी में ताबूतों को इस उम्मीद में लटका देते हैं कि यह उन्हें अपने पूर्वजों के करीब रखेंगे।

यूक्रेन में 1986 को हुए चेर्नोबेल परमाणु दुर्घटना के बाद भुतहे बने पिप्येट का एक कमरा। इसे देखकर ऐसा लगता है मानो हॉरर फिल्म में दिखाए जाने वाले महाविनाश के बाद का यह पल हो।

जापान के ओकिगहारा में स्थित यह जंगल सुसाइड फॉरेस्ट के नाम से मशहूर है। जापान के माउंट फूजी में बसे इस जंगल में साल 1950 के दशक से अब तक करीब 500 लोग आत्महत्या कर चुके हैं।

इटली के वॉल्स ऑफ कैपुचिन कैटाकोम्बस में ममी बनाकर शवों को लाइन से खड़ा करके रखा गया है। 16वीं सदी की इन ममीज को वहां सम्मान के रूप में देखा जाता है। मगर, आप वहां जाकर डर सकते हैं।

प्राग के इस पुराने यहूदी कब्रिस्तान में करीब 12 हजार कब्र के पत्थर लगे हैं। यह कब्रिस्तान 1478 का है, जिसकी 12 परतों में लाशें गड़ी हैं। एक अनुमान के मुताबिक यहां एक लाख से अधिक लोग जमीन के नीचे दफन हैं।