बाबासाहेब आंबेडकर के 127वे जन्मोत्सव की कुछ खास झलकियां

Publish Date:Sat, 14 Apr 2018 02:53 PM (IST)

राष्ट्र आज संविधान निर्माता बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर की 127वी जयंती मना रहा है। बाबासाहेब के जन्मस्थान महू में आज उनके अनुयायियों का जमावड़ा लगा रहा। राष्ट्रपति से लेकर, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने बाबासाहेब को श्रद्धांजलि दी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महू में भारत रत्न बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर सीएम शिवराज सिंह चौहान, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और केंद्रीयमंत्री थावरचंद गेहलोत ने भी बाबासाहेब को श्रद्धांजलि अर्पित की।

इससे पहले राष्ट्रपति कोविंद इंदौर एयरपोर्ट पहुंचे, जहां उनकी अगवानी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने की।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महू में बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि आज राष्ट्र बाबासाहेब की 127 वी जयंती मना रहा है। और मेरा सौभाग्य है कि मैं देश का राष्ट्रपति बना।

महू में बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर की जयंती के मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अम्बेडकर पंचतीर्थ को मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना में शामिल करने की घोषणा की।

सीएम ने कहा कि मध्य प्रदेश भाग्यशाली है कि यहां पर बाबासाहेब का जन्म हुआ, उन्होने संविधान लिखा और लोगों के अधिकारों की लड़ाई लड़ी।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बाबासाहेब को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि बाबा साहब ने ना केवल हमे संविधान दिया बल्कि आधुनिक भारत भी दिया।

अति विशिष्ट व्यक्तियों का आगमन को लेकर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए थे। शहर के चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था।

बाबासाहेब भारत के पहले मंत्रीमंडल में विधिमंत्री थे और उस वक्त मंत्रीमंडल में सबसे शिक्षित मंत्री थे। बाबासाहेब ने अपमान और अभावों के बीच जीवन बनाया और अहिंसा का मार्ग चुना।