बारिश की फुहारों के बीच मालवा उत्सव में ऐसे छाया रंग

Publish Date:Mon, 08 May 2017 09:55 PM (IST)

इंदौर के लालबाग परिसर में चल रहे मालवा उत्सव में रविवार को कला के बेजोड़ रंग देखने को मिले। चिलचिलाती धूप के बाद शाम की ठंडक और बारिश की बूंदों के बीच मंच में थिरकने वाले कलाकारों ने मैदान में प्रस्तुतियां दी।

दर्शकों के बीच पहुंचकर लोक संस्कृति को सहेजने वालों ने जब प्रस्तुतियां देना शुरु किया तो माहौल और उत्सवी बन गया।

कलाकारों की आमद वक्त के साथ बढ़ती जा रही थी और कलाकारों की प्रस्तुतियां भी वाहवाही की तरह थमने का नहीं ले रही थी।

मंच शास्त्रीय नृत्यों की श्रंखला में बढ़ा तो मणिपुरी नृत्य ने दर्शकों का दिल जीत लिया। इसके अलावा पंजाब, गुजरात, झाबुआ, जम्मू कश्मीर, छत्तीसगढ़ के भी कलाकारों ने लोक प्रस्तुतियों से लोगों को जोड़ने की कोशिश की।

मणिपुरी नृत्य का प्रदर्शन करती कलाकार

इस दौरान पंजाब से आई कलाकार ने बताया कि वो पेशे से एक कॉलेज में एडमिनिस्ट्रेटर के पद पर कार्यरत है। लेकिन डांस उनका शौक है और वो लोकनृत्यों को युवाओं के बीच लोकप्रिय बनाना चाहते हैं।

शाम में रंगारंग प्रस्तुतियां शुरू होने से पहले सुहाने मौसम का मजा लेते दर्शक