एयर इंडिया महिला कर्मियों के साथ सबसे लंबी उड़ान परUpdated: Sat, 05 Mar 2016 04:32 PM (IST)

8 मार्च को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में रविवार को एक अनूठी पहल कर रहा है।

नई दिल्ली। सरकारी एयरलाइंस एयर इंडिया 8 मार्च को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में रविवार को एक अनूठी पहल कर रहा है। एयरलाइंस के सबसे लंबे रूट पर जाने वाली फ्लाइट में पायलट से लेकर एयर होस्टेस तक सिर्फ महिला कर्मचारी ही होंगी।

एयर इंडिया की दिल्ली से सैन फ्रांसस्किो जाने वाली फ्लाइट 7,831 नाटिकल मील (करीब 14,500 किमी) की दूरी 17 घंटे में तय करेगी। यह पहली ऐसी लंबी दूरी की उड़ान होगी जिसमें सिर्फ महिलाएं होंगी। एयर लाइंस के अधिकारियों का कहना है कि 14 सदस्यीय परिचालक दल में सभी महिलाएं होंगी।

इसके अलावा, चार महिला पायलटों के दल का नेतृत्व कैप्टन क्षमता बाजपेई करेंगी। फ्लाइट के डिस्पैचर और फ्लाइट इंजीनियर भी महिलाएं ही होंगी। इस साइन की सुरक्षा और सुरक्षा आडिट भी महिलाएं ही करेंगी। सामान रखने-निकालने वाला स्टाफ और ट्रिम स्टाफ भी महिलाएं होंगी।

इस विशिष्ट उड़ान के लिए बोइंग-777-एलआर विमान का इस्तेमाल किया जाएगा। यह विमान रविवार को देर रात 2.35 बजे दिल्ली के आइजीआइ के टर्मिनल-3 से रवाना होगा। विमान की उड़ान की रफ्तार औसतन 500 किलोमीटर प्रति घंटा होगी।

इस विमान अमेरिकी शहर सैन फ्रांसिस्को से दिल्ली मंगलवार को महिला दिवस के अवसर पर लौटेगा। इसके अलावा, यह राष्ट्रीय एयरलाइंस महिला दिवस पर 20 घरेलू उड़ानों में भी केवल महिला सदस्यों के साथ रवाना होगी।

उल्लेखनीय है कि एयर इंडिया पहला ऐसा एयरलाइंस बना जिसने वर्ष 1985 में महिला दिवस के अवसर पर पहली बार केवल महिला कर्मचारियों के साथ उड़ान भरी थी। पिछले साल भी एयर इंडिया के दो अंतरराष्ट्रीय और दो घरेलू उड़ानों पर केवल महिला कर्मियों को तैनात किया गया था।

भारतीय महिला पायलट एसोसिएशन की अध्यक्ष हरप्रीत सिंह डे ने कहा कि एयर इंडिया हमेशा से महिलाओं का समर्थन करता रहा है।

  • महिला दिवस के उपलक्ष में आज दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को जाएगी फ्लाइट
  • करीब 14,500 किमी की दूरी 17 घंटे में तय होगी
  • 8 मार्च को 20 घरेलू उड़ानों को भी सिर्फ महिलाएं संचालित करेंगी

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.