आधार लिंक करने की ये हैं चार आखिरी तारीखें, ध्यान से पढ़ लेंUpdated: Thu, 14 Sep 2017 07:33 AM (IST)

हम यहां बताएंगे आधार से जुड़ी ऐसी ही चार डेडलाइन्स के बारे में। आप भी निर्धारित समय-सीमा में काम निपटा लें।

नई दिल्ली। 'आधार' शब्द आजकल कुछ ज्यादा ही चर्चा में है। सरकार ने आधार कार्ड से जुड़े कई ऐसे नियम लागू किए हैं, जिनका संबंध देश के हर नागरिक से है। आधार को विभिन्न सेवाओं से लिंक कराना बहुत जरूरी हो गया है। इसके लिए सरकार ने समय-समय पर नोटिफिकेश जारी किए हैं। हम यहां बताएंगे आधार से जुड़ी ऐसी ही चार डेडलाइन्स के बारे में। आप भी निर्धारित समय-सीमा में काम निपटा लें।

- सरकार साफ कर चुकी है कि आधार को स्थायी खाता संख्या यानी पैन से लिंक करना जरूरी है। इसके बगैर कोई भी इनकम टैक्स रिटर्न नहीं भर पाएगा। पहले 1 जुलाई 2017 इसकी आखिरी तारीख थी, फिर इसे बढ़ाकर 5 अगस्त किया गया। बहरहाल, अब यह तारीख बढ़ाकर 31 दिसंबर 2017 कर दी गई है।

- इसी तरह बैंक और अन्य वित्तीय लेन-देन के लिए केवायसी में आधार अनिवार्य हो गया है। बैंकों में पहले ही ये निर्देश पहुंच चुके हैं। यानी जिस बैंक में आपका खाता है, वहां आपको पैन के साथ-साथ आधार की जानकारी देना अनिवार्य है। इस काम के लिए भी 31 दिसंंबर 2017 तक का वक्त है। उसके बाद जो खाते आधार से लिंक नहीं हैं, उन्हें बंद कर दिया जाएगा।

- सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दूरसंचार मंत्रालय ने मोबाइन फोन से आधार को लिंक करना जरूरी कर दिया गया है। इसके लिए 6 फरवरी 2018 तक का समय दिया गया है। तब तक यदि आपने अपने सेवा प्रदाता तक आधार की डिटेल्स नहीं पहुंचाई तो सालों से चल रहा मोबाइल नंबर खोने की नौबत आ जाएगी।

- सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए भी आधार जरूरी है। यानी एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी लेने, पेंशन या स्कॉलरशिप हासिल करने के लिए आधार अनिवार्य है। पहले इसकी डेडलाइन 30 सितंबर 2017 थी। अब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में बताया है कि इसे बढ़ाकर 31 दिसंबर 2017 कर दिया गया है।

...जल्द ड्राइविंग लाइसेंस भी लिंक कराना होगा आधार, यहां जाने तरीका

सरकार अब आधार कार्ड को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक करना भी अनिवार्य करने जा रही है। पिछले दिनों केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने यह ऐलान किया था। हालांकि इस पर अभी ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री के साथ बात हो रही है और दोनों दस्तावेजों को कैस लिंक किया जाएगा, इस प्रक्रिया पर भी काम किया जा रहा है।

आधार-ड्राइविंग लाइसेंस लिंकिंग की प्रक्रिया को लेकर कहा जा रहा है कि यह राज्यवार अलग-अलग रहेगी। हम यहां आपको इस प्रक्रिया के बारे में बताएंगे, जो एक राज्य से दूसरे राज्य में अलग हो सकती है, लेकिन आधारभूत व्यवस्था लगभग यही रहेगी।

आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से ऐसे करें लिंक

- आधार से ड्राइविंग लाइसेंस लिंक करने की लिंक सभी राज्यों के सड़क परिवहन विभाग की वेबसाइट पर दी जाएगी।

- सबसे पहले अपने राज्य के सड़क परिवहन विभाग की वेबसाइट पर जाएं। वहां ''Aadhaar Number Entry'' पर क्लिक करें।

- रजिस्ट्रेशन नंबर या लाइसेंस के रूप में ''Search Element'' सिलेक्ट करें।

- यहां अपना रजिस्ट्रेशन या लाइसेंस नंबर दर्ज करें।

- ''Get Details" आइकल पर क्लिक करने पर आपको अपने वाहन का पूरा विवरण दिखाई देने लगेगा।

- इसके नीचे आधार नंबर और मोबाइन नंबर का कॉलम दिखाई देगा।

- मान्य मोबाइल नंबर के साथ 12 अंकों का आधार नंबर दर्ज करें।

- सब्मिट बटन पर क्लिक करने पर कंफर्मेशन मैसेज मोबाइल पर भेज दिया जाएगा।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.