डीपीएस : हादसे के बाद से बसें सील, प्रबंधन ने नहीं किया सुधारUpdated: Fri, 12 Jan 2018 04:00 AM (IST)

डीपीएस प्रबंधन ने पालकों को मैसेज कर स्कूल खुलने की जानकारी दी।

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। डीपीएस प्रबंधन ने पालकों को मैसेज कर स्कूल खुलने की जानकारी दी। गुरुवार को परिवहन अधिकारी वहां पहुंचे तो बताया गया कि बसें पिछले शुक्रवार से खड़ी हैं। उनमें कोई सुधार नहीं हुआ है। इस पर अधिकारियों ने प्रबंधन को फटकारा और बसें चलाने से मना कर दिया।

गुरुवार को अधिकारियों को जानकारी मिली थी कि शुक्रवार से स्कूल खुलने वाला है। 11वीं-12वीं के छात्रों की कक्षाएं पहले शुरू होंगी। दूसरे छात्रों के लिए 15 जनवरी से स्कूल खुलेगा। प्रभारी आरटीओ जितेन्द्रसिंह रघुवंशी, एआरटीओ निशा चौहान और उड़नदस्ता प्रभारी किशोरसिंह बघेल स्कूल पहुंचे और बसों की जांच शुरू की। स्कूल प्रबंधन की तरफ से वाइस प्रिसिंपल आयशा नायर मौजूद थीं।

ऐसे चली बातचीत

प्रभारी आरटीओ- बसों की कमियां दूर नहीं हुई हैं।

स्कूल प्रबंधन -हमारी बसें पुलिस ने सील कर रखी हैं।

प्रभारी आरटीओ - आप स्कूल कैसे शुरू कर सकते हैं?

स्कूल प्रबंधन -हम ऊपर बात कर रहे हैं।

प्रभारी आरटीओ- आपके स्पीड गवर्नर गलत हैं। इन्हें बदलवाइए।

स्कूल प्रबंधन- हम जल्द कराएंगे लेकिन पुलिस ने बसें बाहर निकालने से मना किया है। क्या हम सुधारने के लिए बाहर ले जाएं?

एआरटीओ चौहान- फिर आप कल बच्चे किसमें लेकर आएंगे। हम आपको लेटर दे रहे हैं। सारी जांच हमसे करवाए बगैर बस शुरू नहीं करेंगे।

स्कूल प्रबंधन- हम पुलिस से बात करते हैं।

आरटीआई बघेल - आपकी बसों के सारे स्पीड गवर्नर 40 पर सेट करवाएं। मंगलवार के पहले आप स्कूल शुरू नहीं करेंगे।

स्कूल प्रबंधन - हमारे प्रिसिंपल पुलिस से बात करने गए हैं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.