बिना भौतिक सत्यापन अब नहीं होगा प्याज का भुगतानUpdated: Sun, 16 Jul 2017 10:59 PM (IST)

प्रदेश में समर्थन मूल्य पर खरीदी गई प्याज का भुगतान बिना भौतिक सत्यापन नहीं होगा।

भोपाल। प्रदेश में समर्थन मूल्य पर खरीदी गई प्याज का भुगतान बिना भौतिक सत्यापन नहीं होगा। कलेक्टरों को स्टॉक, उठाव और बाकी बची प्याज की पूरी रिपोर्ट देनी होगी। इसके आधार एक लाख 80 हजार टन प्याज का भुगतान किसानों को किया जाएगा।

इसके लिए राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) ने सरकार से लगभग दो सौ करोड़ रुपए मांगे हैं। उधर, कई जिलों से प्याज खराब होने की सूचनाओं के बावजूद सरकार ने इसे नष्ट करने को लेकर कोई रणनीति नहीं बनाई है।

मार्कफेड के अधिकारियों ने बताया कि 30 जून के बाद खरीदी प्याज का भुगतान नहीं किया गया है। अब पहले प्याज का भौतिक सत्यापन होगा। इसमें स्टॉक के साथ उठाव की पूरी रिपोर्ट देनी होगी। इसके आधार पर भुगतान किया जाएगा।

वहीं, भुगतान के लिए संघ ने अपेक्स बैंक से दो सौ करोड़ रुपए और मांगे हैं। बैंक 557 करोड़ रुपए का कर्ज मार्कफेड को दे चुका है। इसमें से 550 करोड़ रुपए से ज्यादा का भुगतान किसानों को किया जा चुका है। उधर, खराब प्याज को नष्ट करने का अधिकार कलेक्टरों को देने पर अभी तक कोई फैसला नहीं हो पाया है, जबकि मार्कफेड 10 दिन पहले प्रस्ताव भेज चुका है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.