ब्लू व्हेल के गेम में फंस चुकी है कांग्रेस: मोदीUpdated: Tue, 12 Dec 2017 09:25 AM (IST)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा है कांग्रेस अब ब्लू व्हेल के गेम में फंस चुकी है।

शत्रुघ्न शर्मा, अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा है कांग्रेस अब ब्लू व्हेल के गेम में फंस चुकी है, 18 दिसंबर को इसका आखिरी एपिसोड पूरा हो जाएगा। इसी दिन गुजरात चुनाव की मतगणना होनी है।

बता दें कि बीते कुछ माह में देश-विदेश में ब्लू व्हेल नामक ऑनलाइन गेम काफी चर्चित हुआ था जिसके आखिरी राउंड में इसे खेलने वाले को आत्महत्या या किसी तरह जाने देने का टास्क दिया जाता था, देश-विदेश की सरकारों ने इस खेल को खतरनाक घोषित कर इस पर रोक लगा दी थी और इस खेल को बनाने वाले को जेल में डाल दिया था।

उत्तर गुजरात के पाटण में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि प्रथम चरण का मतदान शुरू होते ही एक घंटे बाद कांग्रेस ने ईवीएम-ईवीएम का शोर मचाना शुरू कर दिया। अकेली बेचारी ईवीएम पर कांग्रेस नेता टूट पड़े।

मोदी ने राज्यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस विधायकों के बेंगलुरु के रिजॉर्ट में अड्डा जमाने पर चुटकी लेते हुए कहा कि उत्तर गुजरात के बनासकांठा, पाटण और साबरकांठा के लोग जब कमर तक पानी में डूबे थे, पशु पानी में बह गए थे और कई लोगों की जानें चली गई थीं तब गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल और भाजपा कार्यकर्ता यहां सेवा कार्यों से जुड़े थे और कांग्रेस कार्यकर्ता बेंगलुरु के रिजॉर्ट में स्वीमिंग पूल में डुबकियां लगा रहे थे।

मोदी ने कहा कि मुसीबत में साथ नहीं देने वाला आपका सगा नहीं हो सकता, वह खुद इस आपदा का हवाई सर्वे करके गए थे। मोदी ने खुद को गुजरात का लाडला बेटा बताते हुए कहा कि भूकंप या अन्य आपदा के समय में वह हर समय यहां के लोगों के साथ नजर आए हैं।

मोदी ने कहा पहले यूरिया के लिए किसानों को पुलिस की लाठियां खानी पड़ती थीं पर उनके सरकार में आने के बाद यूरिया को नीम कोटिंग कर दिया जिससे कालाबाजारी रुक गई और किसानों को यूरिया के लिए कहीं दौड़भाग नहीं करनी पड़ती।

मोदी ने कहा कि गुजरात के किसानों की आवक नर्मदा के पानी से दोगुनी हुई है, लेकिन कांग्रेस नेताओं को इसकी जानकारी नहीं है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं को जीरा और सौंफ में फर्क पता नहीं चलता। मोदी ने कांग्रेस नेताओं के बयान और आरोपों पर कहा कि वे जितना कीचड़ उछालेंगे उन्हें कमल खिलाने में उतनी ही आसानी होगी।

राहुल पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि उन्होंने "सोने के चम्मच" के साथ जन्म लिया है और उन्होंने कभी गरीबी नहीं देखी है। प्रधानमंत्री ने राहुल के उन आरोपों को पूरी तरह खारिज कर दिया कि वह सिर्फ देश के चुनिंदा उद्योगपतियों के लिए ही काम करते हैं।

मोदी ने लोगों से कहा कि 13-14 वर्षों में उन्होंने मुख्यमंत्री के तौर पर उन्हें काम करते हुए देखा है। उन्होंने सवाल किया कि क्या उन्होंने कभी कुछ उद्योगपतियों के लिए काम किया है। इस भीड़ ने "नहीं" कहकर उनके सवाल का जवाब दिया। सोमवार को मोदी ने नडियाद व अहमदाबाद में भी सभाएं कीं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.