डोंगरगढ़ मंदिर में लगी आग, चार घंटे श्रद्धालुओं को दर्शन से रोकाUpdated: Fri, 31 Mar 2017 10:41 PM (IST)

गर्भगृह से करीब 100 सीढ़ी नीचे रखे नारियल के छिलके की ढेर में शुक्रवार की रात अचानक भयंकर आग लग गई।

डोंगरगढ़। डोंगरगढ़ में पहाड़ी के ऊपर विराजीं मां बम्लेश्वरी मंदिर के गर्भगृह से करीब 100 सीढ़ी नीचे रखे नारियल के छिलके की ढेर में शुक्रवार की रात अचानक भयंकर आग लग गई। पुलिस व दर्शनार्थियों ने मानव श्रृंखला बनाकर साढ़े तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

इस दौरान गर्भगृह के रास्ते से दर्शनार्थियों को रोक दिया गया था। इस मामले में थोड़ी भी लापरवाही से बड़ा हादसा हो सकता था।

मिली जानकारी के अनुसार सुलगती हुई अगरबत्ती नारियल के छिलके की ढेर पर गिर जाने से आग लगी। इस समय रात के करीब 1 बज रहे थे। धुआं व चिंगारी उठते देख ड्यूटी पर तैनात सिपाहियों ने फौरन इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी।

वहीं मंदिर परिसर में तैनात सभी पुलिसकर्मी व दर्शनार्थी आग बुझाने में जुट गए। पानी दूर होने के कारण उन्होंने मानव श्रृंखला बनाई और बाल्टी व मटके के जरिए आग पर काबू पाया। अग्निशमन यंत्र की कमी के कारण उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी।

इनका कहना है

ऊपर मंदिर के पास नारियल के छिलके की ढेर में आग लगी थी। जानकारी मिलते ही तैनात पुलिसकर्मियों के साथ ही श्रद्धालुओं ने भी एकजुट होकर आग पर काबू पाया। किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ है।

अमित बेरिया, टीआई

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.