दिव्यांगों के लिए हर ब्लॉक में बनेगा मॉडल स्कूलUpdated: Thu, 07 Dec 2017 07:34 AM (IST)

इसी तरह सुगम्य भारत अभियान के तहत रायपुर शहर के 23 भवनों को बाधारहित बनाने के लिए तत्काल टेंडर जारी करने को कहा।

रायपुर। दिव्यांगों के लिए जिले के सभी विकासखंडों में एक-एक मॉडल स्कूल का निर्माण किया जाएगा। बुधवार को समाज कल्याण और खेल एवं युवा कल्याण विभाग के विशेष सचिव आर प्रसन्न ने दिव्यांगों के लिए संचालित योजनाओं और निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक ली।

उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि मॉडल स्कूल में दिव्यांग बच्चों को उनकी निःशक्तता के अनुसार अध्यापन की सुविधा दी जाएगी, जहां पढ़ाने के लिए प्रशिक्षित शिक्षक के साथ ही उनके अनुरूप अध्यापन सामग्रियां उपलब्ध रहेंगी।

प्रसन्ना ने मौजूद जिम्मेदार अधिकारियों से कहा कि दिव्यांगों के लिए संचालित सभी शासकीय संस्थाओं में चिकित्सक द्वारा साप्ताहिक स्वास्थ्य परीक्षण सुनिश्चित किया जाए। दिव्यांग बच्चों को स्कूलों में मध्या- भोजन मिले।

उन्होंने इस बात जोर दिया कि स्कूल व आंगनबाड़ी भवन, बस स्टैण्ड व सभी खेल अधोसंरचनाएं दिव्यांगजनों के लिए बैरियर फ्री रहे, ताकि उन्हें आने-जाने में किसी भी तरह की परेशानियों का सामना न करना पड़े। इस मौके पर कलेक्टर ओपी चौधरी, समाज कल्याण विभाग के संचालक धर्मेश साहू सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

वर्कशाप कराने के निर्देश

विशेष सचिव आर प्रसन्न ने निर्देश दिए कि आंगनबाड़ी केंद्रों में कार्यकर्ता और सहायिका दिव्यांग बच्चों को स्कूल पूर्व अनौपचारिक शिक्षा बेहतर तरीके से प्रदान करें। इसके लिए एक वर्कशॉप भी आयोजित किया जाए।

दिव्यांगों के लिए बनाएं विशिष्ट पहचान पत्र

समाज कल्याण व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को आर प्रसन्ना ने सर्वे के अनुरूप शत-प्रतिशत दिव्यांगों को उनके विशिष्ट पहचान-पत्र बनाकर देने के निर्देश दिए। उन्होंने शहर के बड़े शॉपिंग मॉल या व्यवसायिक कॉम्पलेक्स, जहां लिफ्ट लगीं है, वहां दिव्यांगों को रोजगार प्रदान कराने के लिए आश्यक पहल करने को कहा।

नेट बॉल कोर्ट के लिए 22 लाख आबंटित

उन्होंने बताया कि सप्रे शाला मैदान में नेट बॉल कोर्ट बनाया जा रहा है। इसके लिए खेल विभाग द्वारा लोक निर्माण विभाग को 22 लाख रुपए आबंटित कर दिए गए हैं। इस पर कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग को तत्काल टेंडर जारी करने के निर्देश दिए। इसी तरह सुगम्य भारत अभियान के तहत रायपुर शहर के 23 भवनों को बाधारहित बनाने के लिए तत्काल टेंडर जारी करने को कहा।

राजधानी के 50 गार्डन और उद्यान में बनेगी बापू की कुटिया

कलेक्टर ओपी चौधरी ने बताया कि बुजुर्गों के अकेलेपन को दूर करने के लिए शहर के 50 गार्डन और उद्यान में बापू की कुटिया बनाई जाएगी। यहां उनके मनोरंजन के लिए टेलीविजन, कैरम, शतरंज आदि की व्यवस्था होगी। इसका संचालन समुदाय के सहयोग से किया जाएगा। विशेष सचिव प्रसन्ना ने बापू की कुटिया के निर्माण के लिए आवश्यक पहल करने को कहा है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.