वसूली की शिकायत निकली सही, ASI समेत 6 पुलिस निलंबितUpdated: Fri, 01 Dec 2017 10:03 PM (IST)

खबर को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने मामले की जांच करने एएसपी कमलेश्वर चंदेल को आदेश दिया।

धमतरी। शराब बेचते हो कहकर ग्रामीणों को धमकाने और उनसे रुपए ऐंठने का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने एएसआई की एसपी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की थी। जांच में आरोप सही पाए जाने पर एसपी रजनेश सिंह ने दुगली थानेदार को अटैच कर दिया है। एएसआई समेत 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है। इस कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया है।

दुगली थाना क्षेत्र के ग्राम गोंदलानाला की महिलाओं ने वर्दी का रौब दिखाकर 50 हजार रुपए की अवैध वसूली करने का आरोप लगाकर दुगली थाना में पदस्थ एएसआई के खिलाफ नामजद शिकायत 22 नवंबर को कलेक्टर और एसपी से की थी।

महिलाओं की शिकायत को नईदुनिया ने 23 नवंबर के अंक में 'रौब दिखा एएसआई पर 50 हजार वसूली' का आरोप शीर्षक से खबर प्रमुखता से प्रकाशित किया था। खबर को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने मामले की जांच करने एएसपी कमलेश्वर चंदेल को आदेश दिया।

जांच में महिलाओं द्वारा पुलिस अधिकारी पर लगाए 50 हजार वसूली का आरोप सही पाया गया। जांच रिपोर्ट मिलने पर एसपी रजनेश सिंह ने दुगली थानेदार नटवर सिंह नेताम से वस्तुस्थिति की जानकारी ली। टालमटोल कर जवाब प्रस्तुत किया, तो एसपी रजनेश सिंह ने तत्काल प्रभाव से उसे लाइन अटैच कर दिया।

वहीं लेन-देन का आरोप लगे एएसआई रमेश साहू, हवलदार दीनू मारकंडे, रामदीन मरकाम व तीनों आरक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

महिलाओं ने की थी शिकायत

महिलाओं ने शिकायत में बताया था कि दुगली थाना का एक एएसआई 20 नवंबर को सुबह 9 बजे कुछ आरक्षकों के साथ नगरी ब्लाक के वनांचल ग्राम गोंदलानाला पहुंचा। एक के बाद एक घरों में घुसकर शराब बेचते हो कहकर सबको उठाकर थाना ले आए। डरा-धमकाकर 50 हजार रुपए लिए और कोरे कागज में हस्ताक्षर भी करवा लिया।

महिलाओं ने आरोप लगाया है कि फुलबासन से 10 हजार, शिवबती से 5 हजार, अमीलता बाई से 10 हजार, सुशीला बाई 5 हजार, सुंदरबती से 5 हजार, करण ध्रुव से 5 हजार, नरसिंग ध्रुव से 10 हजार मिलाकर एएसआई द्वारा 50 हजार रुपए लेने की शिकायत की थी।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.