पुलिस ने रात भर ढूंढा शराब के नशे में बद्सलूकी करने वाले दूल्हे कोUpdated: Tue, 05 Dec 2017 06:55 AM (IST)

शराब के नशे में अपने होने वाले ससुर और दुल्हन से गाली-गलौज कर बद्तमीजी करने वाले दूल्हे की दूसरे दिन भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

भिलाई। शराब के नशे में अपने होने वाले ससुर और दुल्हन से गाली-गलौज कर बद्तमीजी करने वाले दूल्हे की दूसरे दिन भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस ने सुपेला स्थित होटल के पास भी पहुंची थी, लेकिन वहां पर दूल्हा नहीं मिला। घटना के दूसरे दिन भी आरोपी दूल्हे का कोई सुराग नहीं मिल सका। वहीं घटना के बाद दूल्हे के पिता ने भी थाने में पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई है। दूल्हे के पिता ने दुल्हन के सारे आरोपी को बेबुनियाद बताया है।

उल्लेखनीय है कि रविवार को तिल्दा नेवरा निवासी दुर्गा प्रसाद केशरवानी अपनी बेटी अंजलि केशरवानी की शादी के लिए भिलाई पहुंचे थे। अंजलि की शादी एसीसी कॉलोनी जामुल निवासी रमेशचंद्र केशरवानी के बेटे सोमित केशरवानी से होने वाली थी। शादी के लिए दोनों पक्षों ने मिलकर सुपेला के एक होटल को किराए पर लिया था।

लेकिन शादी ठीक पहले वहां विवाद हुआ और दुल्हन ने अपने होने वाले पति के खिलाफ शराब पीकर दुर्व्यवहार करने का मामला दर्ज करा दिया। दुल्हन ने आरोप लगाया था कि दूल्हा शराब के नशे में उसके कमरे में घुस आया था। घरवालों द्वारा मना करने पर दूल्हे ने दुल्हन के पिता से भी गाली-गलौज की थी। दुल्हन अंजलि केशरवानी की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी दूल्हे सोमित केशरवानी के खिलाफ धारा 294 (गाली-गलौज) और 342 (बंधक बनाने) के तहत अपराध दर्ज किया था। पुलिस रात में आरोपी की तलाश के लिए भी निकली थी, लेकिन वह नहीं मिला। घटना के दूसरे दिन भी आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

दूल्हे के पिता ने कहा, झूठा है आरोप

मामला दर्ज होने के बाद दूल्हे के पिता रमेशचंद्र केशरवानी ने भी थाने में शिकायत की है। रमेशचंद्र केशरवानी ने झूठा आरोप लगाकर प्रतिष्ठा धूमिल करने की बात कही। इस पर सुपेला पुलिस ने धारा 155 के तहत फरमाइश नालिश काटकर न्यायालय की शरण में जाने की सलाह दी है। घटना के बाद रमेशचंद्र केशरवानी ने अपना पक्ष रखते हुए बताया कि उनकी होने वाली बहू अंजलि ने उनके बेटे सोमित को फोनकर कहा था कि ये शादी उसकी मर्जी के खिलाफ हो रही है।

उसने सोमित से कहा था कि वो शादी के लिए इनकार कर दें। इनकार न करने पर वो शादी के दिन हंगामा करेगी। उन्होंने बताया कि उनकी होने वाली बहू ने जैसा कहा था, वैसा ही कहा। शादी के ठीक पहले उनके बेटे पर शराब पीने का आदि होने के बात कहकर शादी करने से इनकार करने की बात कही। जब उन्होंने समाज में इज्जत उछलने की बात कही तो उनके होने वाले समधी दुर्गा प्रसाद केशरवानी ने अपनी आधी संपत्ति उनकी बेटी के नाम पर करने की शर्त रखी।

जब उन्होंने शर्त मानने से इनकार कर दिया तो वधु पक्ष ने झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी और वहां से चले गए। रमेशचंद्र केशरवानी ने कहा कि अखबारों में घटना के संबंध में समाचार छपने के बाद उन्हें रिपोर्ट की जानकारी हुई है। उन्होंने कहा कि घटना की निष्पक्ष जांच के लिए उन्होंने प्रभारी एसपी शशिमोहन सिंह और सुपेला थाना प्रभारी से लिखित में शिकायत की है।

चाहें कॉल डिटेल चेक करा लें

'मेरे ससुर झूठी बात कर रहे हैं। मैंने कभी भी फोन कर शादी से इनकार नहीं किया था। दुर्गा नवमीं के दिन मेरे ससुराल में विवाद हुआ था तो मेरे ससुर ने ही मुझे फोनकर समझाने के लिए कहा था। इसके बाद से सोमित ही फोनकर गाली-गलौज करता था। परेशान होकर मैंने अपने घर वालों को बताया था तो मेरे घर वाले 13 अक्टूबर को भिलाई गए थे। वहां पर मेरे ससुराल वालों ने दोबारा ऐसा न होने की बात कही थी। मैं कहीं भी गलत नहीं हूं। चाहे तो कोई भी मेरा कॉल डिटेल निकलवाकर चेक करा लें।'

-अंजलि केशरवानी, पीड़िता

तीन बार टीम गई

'आरोपी सोमित केशरवानी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम तीन बार उसके घर गई थी। लेकिन वो नहीं मिला। उसके घर वालों ने बताया कि वो लड़की से मिलने के लिए तिल्दा गया है। वहां पर पता करवाने भी कोई जानकारी नहीं मिली है। टीम को लगाया गया है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।'

-अमित कुमार बेरिया, टीआई सुपेला

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.