वायरस अटैक, बदले जा रहे हैं 17.5 लाख डेबिट कार्डUpdated: Thu, 20 Oct 2016 08:28 AM (IST)

द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, देशभर में 69.7 करोड़ डेबिट कार्ड हैं।

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बैंकों से कहा है कि वे देशभर के उन उपभोक्ताओं के डेबिट कार्ड बदलकर दें, जो सुरक्षित नहीं है। माना जा रहा है कि विभिन्न राज्यों के ऐसे डेबिट कार्ड धारकों की संख्या 17.5 लाख है। अधिकारियों के मुताबिक, इन डेबिट कार्ड का कुछ समय उपयोग हुआ है, लेकिन ये पूरी तरह सुरक्षित नहीं हैं।

इस बीच सूचना है कि एसबीआई ने अपने छह लाख डेबिट कार्ड धारकों के कार्ड ब्लॉक करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। वायरस अटैक के चलते इन कार्ड के क्लोन बनाए जाने का खतरा पैदा हो गया था। आरबीआई के निर्देश के बाद इन ग्राहकों को बिना किसी शुल्क के नए कार्ड जारी किए जाएंगे।

देशभर में हैं 69.7 करोड़ डेबिट कार्ड

द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, देशभर में 69.7 करोड़ डेबिट कार्ड हैं। आरबीआई के निर्देश मिलने के बाद एसबीआई के साथ ही एचडीएफसी और बैंक ऑफ बडौदा ने कार्ड बदने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: माइक्रोसॉफ्ट ने मनुष्य जैसा भाषण तैयार करने वाला सिस्टम बनाया

एसबीआई के मुख्य सूचना अधिकारी मृत्युंजय महापात्र के मुताबिक, वीसा, मास्टरकार्ड और रूपे जैसी पैमेंट गेटवे एजेंसियों ने बैंकों को चेताया था कि एटीएम कार्ड के जरिए डाटा चोरी किया जा रहा है। इस सूचना के बाद कुछ कार्ड ब्लॉक करने की कवायद शुरू की गई है। हम ग्राहकों के डाटा की सुरक्षा को लेकर कोई ढिलाई नहीं बरतना चाहते हैं। इसी सूचना के आधार पर अन्य बैंकों ने भी कार्ड बदलना शुरू कर दिया है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.