हुंडई ने कमर कसी, करेगी 50 अरब का नया निवेशUpdated: Thu, 20 Apr 2017 07:54 PM (IST)

देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी हुंडई ने भारतीय बाजार के लिए बेहद आक्रामक रणनीति अपनाने का फैसला किया है।

नई दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी कार कंपनी हुंडई ने भारतीय बाजार के लिए बेहद आक्रामक रणनीति अपनाने का फैसला किया है। कंपनी ने अगले चार वर्षों के दौरान भारत में आठ नई कारें लांच करने और 5,000 करोड़ रुपये के नए निवेश का एलान किया है।

इसकी शुरुआत कंपनी ने अपनी एक्सेंट मॉडल के नए वर्जन की लांचिंग के साथ की है। बिल्कुल नई एक्सेंट की कीमत 5.38 लाख रुपये से 8.41 लाख रुपये के बीच रखी गई है। नई एक्सेंट को लांच करते हुए हुंडई मोटर इंडिया के एमडी व सीईओ वाई के कू ने बताया, 'हम हर वर्ष दो नई कारें लांच करने की रणनीति के साथ आगे बढ़ेंगे। वर्ष 2020 तक कंपनी तीन नई श्रेणी में भी कारें लांच करेगी।

हाइब्रिड कारों को लेकर भी कंपनी की योजना जल्द ही जमीन पर उतरेगी।' पहली बार कंपनी ने हाइब्रिड कारों को भी भारतीय बाजार में उतारने का एलान किया है। भारतीय बाजार में हाइब्रिड कारों को लेकर टोयोटा और होंडा की तैयारियां पहले से ही चल रही हैं।

हुंडई मोटर इंडिया के डायरेक्टर (सेल्स व मार्केटिंग) राकेश श्रीवास्तव का कहना है कि इन नए मॉडलों के बदौलत कंपनी वर्ष 2021 तक 10 लाख कारें हर साल बेचने का लक्ष्य लेकर चल रही है। यह लक्ष्य बेहद महत्वाकांक्षी कहा जाएगा, क्योंकि पिछले वर्ष घरेलू बाजार में हुंडई ने भारत में पांच लाख कारें बेची थीं, जबकि 1.62 लाख कारों का निर्यात किया था।

इस हिसाब से देखा जाए तो कंपनी को घरेलू बाजार में हर वर्ष अपनी बिक्री में 15 फीसद का इजाफा करना होगा। दस लाख से ज्यादा कारों की बिक्री करने वाली मारुति सुजुकी इकलौती कंपनी है। माना जा रहा है कि कंपनी भारतीय बाजार के लिए 1200 सीसी वर्ग में एक छोटी कार और सस्ती छोटी एसयूवी भी तैयार कर रही है।

इन्हें अगले वर्ष लांच किया जा सकता है। गुरुवार को हुंडई की तरफ से नई एक्सेंट को पेट्रोल व डीजल वर्जन में उतारा गया है। पेट्रोल में पांच वेरिएंट हैं, जिनकी दिल्ली में एक्सशोरूम कीमत 5,38,381 रुपये से शुरु होकर 7,09,916 लाख रुपये के बीच है। डीजल वर्जन में चार वैरिएंट हैं। इनकी कीमत 6,28,281 रुपये से 8,41,670 रुपये के बीच रखी गई है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.