सदमे जैसा है ईशनिंदा का आरोप : वीना मलिकUpdated: Wed, 26 Nov 2014 08:36 PM (IST)

वीना मलिक ने ईशनिंदा में आरोप में सुनाई गई सजा पर आश्‍चर्य जताया और कहा कि वो इसे उच्‍च अदालत में चुनौती देंगी।

इस्लामाबाद। पाकिस्तानी अभिनेत्री वीना मलिक ने अपने और अपने पति को ईशनिंदा के आरोप में 26 साल जेल की हुई सजा पर आश्चर्य जताया है और इस फैसले के खिलाफ उच्च अदालत में जाने की बात कही है।

फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए वीना ने कहा, "यह मेरे लिए एक सदमे जैसा है लेकिन मुझे पाकिस्तान की उच्च अदालतों और न्यायिक व्यवस्था पर पूरा भरोसा है। इस अदालत ने अन्य अदालतों से इतर तरीके से फैसला दिया है। हम फैसले के वक्त वहां उपस्थित भी नहीं थे।"

पाकिस्तान की एक आतंकरोधी अदालत ने मंगलवार को अभिनेत्री वीना मलिक, उनके पति असद बशीर खान खट्टक, जियो टीवी के मालिक मीर शकील-उर-रहमान और एंकर शाइस्ता लोधी को ईशनिंदा के आरोप में 26 साल जेल की सजा सुनाई थी। प्रत्येक पर 13 लाख रुपये का जुर्माना भी किया गया है।

आरोप है कि इस साल मई में चैनल पर एक कार्यक्रम के दौरान वीना और उनके पति की झूठी शादी में धार्मिक संगीत बजाया गया। संगीत के वक्त वीना और उनके पति दोनो नाच रहे थे। कई लोगों ने इस कृत्य को ईशनिंदा मानते हुए पुलिस में इसकी शिकायत की थी।

वीना ने कहा, "26 साल मतलब उम्रकैद होता है। लेकिन मुझे बड़ी अदालतों पर भरोसा है। अंतिम फैसले में मेरे साथ न्याय होगा। कुछ गलत नहीं होने जा रहा है।"

जियो टीवी के मालिक शकील-उर-रहमान ने भी सजा के खिलाफ अपील की बात कही है। वीना फिलहाल दुबई में रह रही हैं। खबर है कि शकील और शाइस्ता भी पाकिस्तान से बाहर चले गए हैं।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.