निर्दयता के खिलाफ फैला रोष, ताइवान ने बैन किया कुत्ते-बिल्ली का मांसUpdated: Wed, 12 Apr 2017 05:29 PM (IST)

सांसद वांग यू-मिन ने संशोधन प्रस्तावित करते हुए कहा कि यह दिखाता है कि ताइवान उन्नत पशु कल्याण वाला समाज है।

तेईपी। ताइवान ने कुत्तों और बिल्लियों के खाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। सांसदों ने बुधवार को कहा कि पशु कल्याण को बेहतर बनाने के लिए दबाव बढ़ता जा रहा है, जिससे सार्वजनिक आक्रोश फैल गया है।

संसद ने कुत्ते और बिल्ली के मांस की खपत, खरीद या बिक्री करने के कानून को खारिज कर दिया है। ऐसा करते हुए पाए जाने पर दोषियों पर कुल 8,170 डॉलर तक का जुर्माना लगाया जाएगा।

बिल में यह भी कहा गया है कि जानवरों को मारने या दुर्व्यवहार करने पर अधिकतम दो साल जेल की सजा और दो करोड़ ताइवानी मुद्रा का कड़ा जुर्माना भी लगाया गया है। दोबार अपराद दोहराने वालों पर दोगुना जुर्माना लगाया जाएगा।

सांसद वांग यू-मिन ने संशोधन प्रस्तावित करते हुए कहा कि यह दिखाता है कि ताइवान उन्नत पशु कल्याण वाला समाज है। कुछ अन्य एशियाई राष्ट्रों की तरह ताइवान में भी दशकों पहले कुत्ते की खपत आम हुआ करती थी। हालांकि अब यह काफी कम हो गई है। हालिया सालों में कुत्ते के मांस की बिक्री पकड़े जाने की खबरें मिली हैं।

पिछले साल तीन सैनिकों का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें एक लोहे की चेन से उन्हें आवारा कुत्ते को गला घोंटकर मारते हुए दिखाया जा रहा था। सड़क पर बड़े पैमाने पर हुए विरोध प्रदर्शन करने के बाद सेना को इस मामले में मांफी मांगने पर मजबूर होना पड़ा था।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.