5 घटनाएं: कैसे US में ट्रंप के खिलाफ लगातार बढ़ रही नफरतUpdated: Mon, 22 May 2017 03:09 PM (IST)

ट्विटर के सह-संस्थापक ईवान विलियम्स ने इस बात पर अफसोस जताया है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने में ट्विटर का भी योगदान रहा।

वॉशिंगटन। डोनाल्ड ट्रंप की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं। इसी साल जनवरी में अमेरिकी राष्ट्रपति का पद संभालने के बाद कई ऐसी घटनाएं और बयानबाजी सामने आई हैं, जिनसे लगता है कि लोगों में ट्रंप के प्रति गुस्सा है। एक नजर ऐसी ही प्रमुख घटनाओं पर -

1. ट्विटर के फाउंडर को हुआ अफसोस : ट्विटर के सह-संस्थापक ईवान विलियम्स ने इस बात पर अफसोस जताया है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने में ट्विटर का भी योगदान रहा। न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए साक्षात्कार में विलियम्स ने कहा, मैं माफी मांगता हूं। यह बहुत बुरी बात है। कहा जा रहा है कि यदि ट्विटर नहीं होता तो ट्रंप राष्ट्रपति नहीं बन सकते थे। यदि यह सही है तो मैं सॉरी कहता हूं।

2. महाभियोग चलाने की तैयारी: 2016 के राष्ट्रपति चुनावों में रूस की भूमिका की जांच कर रहे अमेरिकी जांच एजेंसी एफबीआई के निदेशक जेम्स कोमे को बर्खास्त करने के बाद से ट्रंप लगातार घिर रहे हैं। चर्चा यहां तक है कि ट्रंप अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएंगे। या तो खुद ही पद छोड़ देंगे या महाभियोग चलाकर उन्हें हटा दिया जाएगा।मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हर गुजरते दिन के साथ ट्रंप को हटाने की चर्चा बढ़ रही है, यहां तक कि उनकी अपनी पार्टी के कुछ लोग भी यही चाहते हैं।

3. लगातार बढ़ रहे 2020 में खिलाफ खड़े होने वाले : यूं तो अमेरिका में ट्रंप के खिलाफ कई सोशल कैंंपेन चल रहे हैं, लेकिन एक अभियान को कई बड़े लोगों का समर्थन हासिल है। दरअसल, 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के खिलाफ लड़ने की इच्छा जताने वाली हस्तियों की संख्या 129 पर पहुंच गई है। फेडरल इलेक्शन कमिशन के हवाले से यह जानकारी दी गई है।

4. ट्रेवन बैन के खिलाफ नामी हस्तियां: ऑस्कर 2017 में भी अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का विरोध देखने को मिला था। यह विरोध सेलेब्रेटिज की ओर से जताया गया था। बेरी जेनकिंस और रुथ नेगा ने ट्रेवल बैन के खिलाफ अपना विरोध प्रदर्शित किया। ये सितारे ब्लू रिबन लगाकर समारोह में पहुंचे थे। ऑस्कर 2017 में नॉमिनेट होने वाले कई सितारों ने इस बैन का समर्थन किया है।

5. लगातार बढ़ रहे ट्रंप विरोधी अभियान: अमेरिका में सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक पर ट्रंप के खिलाफ अभियान चल रहे हैं। शिकागो शहर में ट्रंप की आव्रजन नीति को लेकर अभियान चल रहा है। #TrumpLeaks प्रोग्राम चलाकर ट्रंप के खिलाफ दस्तावेज जारी किए जा रहे हैं।

...लेकिन समर्थक कहे, यह कुछ मीडिया संस्थानों की करतूत

ट्रंप समर्थक भी लामबंद हैं। उनका मानना है कि डोनाल्ड ट्रंप सिर्फ अमेरिकी की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं। विरोध की आवाजों को ये लोग कुछ मीडिया संस्थानों की करतूत करार देते हैं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.