पाकिस्तानः फेसबुक पर पोस्ट की ईशनिंदा, कोर्ट ने सुनाई मौत की सजाUpdated: Sun, 11 Jun 2017 10:38 AM (IST)

शिया समुदाय से ताल्लुक रखने वाले एक शख्स को वहां की आतंकवाद निरोधी अदालत ने शनिवार को मौत की सजा सुनाई।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में फेसबुक पर ईशनिंदा संबंधी सामग्री डालने वाले शिया समुदाय से ताल्लुक रखने वाले एक शख्स को वहां की आतंकवाद निरोधी अदालत ने शनिवार को मौत की सजा सुनाई। ईशनिंदा कानून का अल्पसंख्यक आबादी के खिलाफ शुरू से ही दुरुपयोग होता रहा है, लेकिन सोशल मीडिया पर पोस्ट के बाद मौत की सजा का यह पहला मामला है।

अल्पसंख्यक शिया समुदाय से ताल्लुक रखने वाले 30 साल के तैमूर रजा को आतंक निरोधी विभाग ने पिछले साल बहवालपुर से गिरफ्तार किया था। ओकरा के रहने वाले तैमूर ने कथित रूप से सुन्नी समुदाय के गुरुओं और पैगंबर मोहम्मद पर फेसबुक पर आत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस मामले में पंजाब प्रांत के बहवालपुर जिले में आतंक निरोधी अदालत के जज शब्बीर अहमद ने उसे मौत की सजा सुनाई है।

उनके खिलाफ मुल्तान पुलिस स्टेशन में आतंक निरोधी ऐक्ट के सेक्शन 295-सी (पैगबंर के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी) और सेक्शन 9 और सेक्शन 11 के तहत मामले दर्ज किए गए थे। साइबर क्राइम से जुड़े किसी भी मामले में दी गई यह अब तक की सबसे सख्त सजा है। इस सजा के बाद पाकिस्तान में एक बार फिर ईशनिंदा कानून में संशोधन की मांग उठने लगी है।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.