Live Score

भारत 105 रन से जीता मैच समाप्‍त : भारत 105 रन से जीता

Refresh

एक डॉलर सैलरी और बिना छुट्टियों के काम करेंगे ट्रम्‍पUpdated: Mon, 14 Nov 2016 05:30 PM (IST)

अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषणा की है कि वह बिना छुट्टी लिए लगातार काम करेंगे।

वाशिंगटन। अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घोषणा की है कि वह बिना छुट्टी लिए लगातार काम करेंगे। साथ ही महज एक डॉलर (67 रुपये) प्रतिमाह पर राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी संभालेंगे। 70 वर्षीय ट्रंप का कार्यकाल 20 जनवरी, 2017 से शुरू होगा।

ट्रंप ने यह बात न्यूज चैनल सीबीएस को दिए इंटरव्यू में कही। अमेरिकी राष्ट्रपति का वेतन चार लाख डॉलर (करीब ढाई करोड़ रुपये) सालाना है। इसके अतिरिक्त करीब एक करोड़ दस लाख रुपये के बराबर उन्हें भत्ते मिलते हैं। ये वेतन व भत्ते दुनिया के किसी राष्ट्राध्यक्ष की तुलना में सबसे ज्यादा हैं।

वैसे अरबपति ट्रंप ने यह घोषणा अपने चुनाव प्रचार के दौरान सितंबर में की थी कि वह वेतन में महज एक डॉलर लेंगे। ताजा इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा कि हमें बहुत काम करना है। यह काम देश की जनता के लिए होगा। हम टैक्स कम करेंगे।

लोगों को चिकित्सा सुविधा देंगे। देश को फिर से महान बनाएंगे। ऐसे में छुट्टी का तो सवाल ही पैदा नहीं होता। ट्रंप ने चुनाव में अपनी प्रतिद्वंद्वी रहीं हिलेरी क्लिंटन का एक बार फिर बचाव किया। कहा, उनकी हार से बहुत से लोगों को धक्का लगा है।

मुस्लिमों और अफ्रीकियों का उत्पीड़न बंद करें

चुनाव में जीत के बाद समर्थकों द्वारा मुस्लिमों, अफ्रीकी मूल के लोगों और लातिन अमेरिकी लोगों के उत्पीड़न की घटनाओं से दुखी डोनाल्ड ट्रंप ने ऐसे कृत्य बंद करने के लिए कहा है।

कहा है कि इस समुदाय के लोगों की मदद की जाए, न कि उन्हें परेशान किया जाए। ट्रंप ने यह बात उनकी जीत के बाद खास तबके के खिलाफ बढ़ी आपराधिक घटनाओं पर पूछे गए सवाल के जवाब में कही।

प्रीबस और बैनन बने ट्रंप के खास सलाहकार

अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रिपब्लिकन पार्टी की नेशनल कमेटी के चेयरमैन रींस प्रीबस को अपना कार्य प्रमुख (चीफ ऑफ स्टाफ) और अपने प्रचार प्रमुख रहे स्टीफन बैनन को मुख्य रणनीतिकार बनाया है। ये दोनों व्हाइट हाउस में ट्रंप के प्रमुखतम सलाहकार होंगे। दोनों की समान हैसियत होगी।

दोनों ही पदों पर नियुक्ति के लिए ट्रंप को संसद की सहमति प्राप्त नहीं करनी होगी। दोनों पद उसी दिन से प्रभाव में आ जाएंगे जब 20 जनवरी, 2017 को ट्रंप राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। ट्रंप ने कहा कि दोनों अनुभवी नेता हैं और वे अमेरिका को फिर से महान बनाने के कार्य में महत्वपूर्ण सहयोग देंगे।

बेटा-बेटी नहीं लेंगे सरकारी पद

चर्चा थी कि ट्रंप के दो बेटे- एरिक व डोनाल्ड ट्रंप जूनियर और बेटी इवांका व्हाइट हाउस प्रशासन में ट्रंप का सहयोग करेंगे। लेकिन उन्होंने इस संभावना से इन्कार किया है। बेटों ने कहा है कि वे अपना रीयल एस्टेट का कारोबार संभालेंगे।

राजनीति में उतरने का उनका कोई विचार नहीं है। पिता डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद कंपनी को संभालना बड़ी जिम्मेदारी होगी, उसे उनकी संतानें संभालेंगी।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.