जाधव मामले में पाक फिर पहुंचा ICJ, दायर की पुनर्विचार याचिकाUpdated: Fri, 19 May 2017 10:37 PM (IST)

कुलभूषण जाधव मामले में मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान ने आईसीजे में पुनर्विचार याचिका दायर की है।

इस्लामाबाद। कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगाने के अंतरराष्ट्रीय अदालत (आइसीजे) के अंतरिम आदेश के बाद पाकिस्तान नई पैंतरेबाजी पर उतर आया है। इसने आइसीजे से इस मामले की छह सप्ताह के भीतर फिर से सुनवाई करने की मांग की है।

पाकिस्तानी टीवी चैनल दुनिया न्यूज के अनुसार, इस्लामाबाद अंतरराष्ट्रीय अदालत का फैसला आने के बाद ही उसके खिलाफ अपील करने का मन बना चुका था। चैनल का कहना है कि पाकिस्तानी कानून के अनुसार जाधव के सारे विकल्प खत्म नहीं हुए हैं। वे सैन्य अदालत के फैसले को 40 दिनों के अंदर यानी शनिवार तक ही अपीलीय अदालत में चुनौती दे सकते हैं। सैन्य अदालत ने 10 अप्रैल को उन्हें मौत की सजा सुनाई थी। पाकिस्तानी पक्ष के मुताबिक सजा के खिलाफ अपील के लिए कुलभूषण जाधव के पास शनिवार का दिन ही बचा है।

उल्लेखनीय है कि 46 वर्षीय कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने फिलहाल रोक लगा दी है और उनके खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई करने से रोका है। पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने पिछले महीने जाधव को जासूसी और आतंकी गतिविधियों का दोषी ठहराते हुए फांसी की सजा सुनाई थी। भारतीय नौसेना से सेवानिवृत्त जाधव एक साल से अधिक समय से पाकिस्तान में बंदी हैं।

कुलभूषण का नहीं अता-पता : कुलभूषण जाधव मामले में चिंता की बात यह है कि पाकिस्तान ने अभी तक उन्हें रखे जाने वाली जगह और उनकी सेहत के संबंध में कोई भी जानकारी नहीं दी है। भारत सरकार को जाधव की मौजूदा स्थिति के बारे में कोई खबर नहीं है। केंद्र सरकार के सूत्रों के अनुसार चूंकि यह मामला अब अंतरराष्ट्रीय अदालत में पहुंच चुका है। इसलिए अब पाकिस्तान के लिए आवश्यक हो गया है कि वह जाधव के खिलाफ ठोस सुबूत पेश करे। साथ ही जाधव को रखे जाने की जगह और उनके स्वास्थ्य के बारे में पूरी जानकारी दे।

जाधव के पाकिस्तान में कैद किए जाने की जगह के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा, 'आज तक पाकिस्तान सरकार ने भारत को जाधव को पाकिस्तान में कहां रखा गया है या उनकी सेहत कैसी है जैसी जानकारियां नहीं दी हैं। यह बात अपने आप में बहुत चिंताजनक है।' इतना ही नहीं, पिछले साल भारत ने पाकिस्तान सरकार से जाधव की चिकित्सकीय सुविधा पर रिपोर्ट मांगी थी लेकिन उस पर अब तक कोई जवाब नहीं मिला।

जाधव की मां ने इस्लामाबाद में मौजूद भारतीय उच्चायुक्त के हाथों पाकिस्तान के विदेश सचिव को अपील भेजी थी। लेकिन पाकिस्तान की ओर से अब तक उस पर भी कोई जवाब नहीं आया है। बागले ने इस बात पर भी ध्यान दिलाया कि मौजूदा जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने अभी तक जाधव के परिवार के पाकिस्तान आने के लिए वीजा की अर्जी पर भी तवज्जो नहीं दी है। जाधव का परिवार उनसे पाकिस्तान जाकर मिलने की मांग कर रहा है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.