तिब्‍बत के पठार पर PLA ने किया युद्धाभ्‍यास, टैंक का हुआ उपयोगUpdated: Mon, 17 Jul 2017 11:30 AM (IST)

भारत और चीन के बीच डोकलाम में जारी सीमा विवाद का अब तक कोई समाधान नहीं निकल पाया है

बीजिंग। भारत और चीन के बीच डोकलाम में जारी सीमा विवाद का अब तक कोई समाधान नहीं निकल पाया है इस बीच चीन भारत पर दबाव की कोशिश में लगा हुआ है। खबरों के अनुसार ताजा मामले में चीनी सेना ने तिब्बत में युद्धाभ्यास किया है जिसमें उसने टैंकों का भी उपयोग किया है। हालांकि भारत ने भी ये जाहिर कर दिया है कि वो पीछा हटने वाला नहीं है।

बताया जा रहा है कि चीन की पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी के इस युद्धाभ्‍यास का मकसद सेना की क्विक डिलीवरी क्षमता को बढ़ाना है। हालांकि चीनी सेना ने ये युद्धाभ्‍यास किस समय किया, इसकी कोई पुख्‍ता जानकारी नहीं दी गई है। अभ्यास करने वाला ये ब्रिगेड फ्रंटलाइन कॉम्बैट मिशन के लिए जाना जाता है और काफी लंबे समय से ब्रह्मपुत्र नदी के मध्यम और निचले क्षेत्रों में तैनात है।

इस युद्धाभ्‍यास पर चीन सेंट्रल टेलीविजन(सीसीटीवी) पर एक वीडियो भी जारी किया गया है। इस वीडियो में तोप, होवित्जर और एंटी टैंक ग्रेनेड के साथ राडार यूनिट दिखाया गया है। वीडियो में फौजियों को एंटी टैंक ग्रेनेड और होवित्जर का इस्तेमाल करते दिखाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक दुश्मन के विमानों को पहचानने वाली रडार इकाइयों और सैनिकों के तोप चलाने से लेकर टारगेट को ध्वस्त करने का अभ्यास किया गया।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.