लार से एक्टिवेट होगी यह अनोखी बैटरी, अन्‍य बैटरी से है अलगUpdated: Wed, 09 Aug 2017 05:33 PM (IST)

न्‍यूयार्क की बिंघटम यूनिवर्सिटी के शोधार्थियों ने एक ऐसी पेपर बैटरी विकसित की है जो कि लार से एक्टिवेट होगी।

मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। न्‍यूयार्क की बिंघटम यूनिवर्सिटी के शोधार्थियों ने एक ऐसी पेपर बैटरी विकसित की है जो कि लार से एक्टिवेट होगी।

इसे विकट परिस्थिति में भी चार्ज किया जा सकेगा जहां सामान्‍य बैटरी काम नहीं कर पाती। पिछले पांच साल से इस पर काम चल रहा था।

कम्‍प्‍यूटर साइंस विभाग के असिस्‍टेंट प्रोफेसर सियोकून चोई का कहना है कि एक माइक्रो पॉवर सोर्स को डेवलप करने के लिए उन्‍होंने कई पेपर बेस्‍ड बैक्‍टीरिया पॉवर वाली बैटरियां बनाई हैं।

चोई कहते हैं कि विकासशील देशों में ऑन डिमांड माइक्रो पॉवर जनरेशन की जरूरत है। कमर्शियल बैटरी या अन्‍य एनर्जी पैदा करने वाली तकनीक अधिक महंगी हैं, उनसे पर्यावरण भी प्रदूषित होता है।

यह अनोखी बैटरी फ्रीज किए गए एक्‍सोइलेक्ट्रिोजेनिक सेल्‍स से बनी होती है जो कि लार के संपर्क में आने के बाद मिनटों में एक्टिवेट हो जाती है।

आने वाले समय में इसका इस प्रकार से उपयोग होगा कि डिस्‍पोजेबल पेपर बेस्‍ट प्‍लेटफार्म पर महज लार गिराने से यह जीवित हो जाएगी।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.