नए तरीके के इस व्हाट्सएप स्कैम से रहें सावधानUpdated: Wed, 17 May 2017 03:27 PM (IST)

अधिकांश फर्जी यूआरएल में Cyrillic alphabet के अक्षर लिखे होते हैं। ऐसे में यदि यूजर थोड़ी सावधानी बरते कर मैलेशियस मैसेज को पहचान सकता है।

मल्टीमीडिया डेस्क। इन दिनों एक नए तरीके का मैलेशियस लिंक चल रहा है, जिसे लेकर व्हाट्सएप यूजर्स को सतर्क रहने की जरूरत है। द नेक्स्ट वेब में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, रेडिट यूजर u/yuexist ने संदिग्ध लिंक के बारे में जानकारी दी है, जिसे व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया में शेयर किया जा रहा है।

यह यूजर्स को झांसे में लेकर मालवेयर अपने सिस्टम में इंस्टॉल करने के लिए कहता है। रेडिट यूजर के अनुसार, लिंक में यूजर से वादा किया जाता है कि वे व्हाट्सएप को विभिन्न रंगों में यूज कर सकेंगे। इस लिंक पर क्लिक करने के बाद यूजर से कहा जाता है कि वह इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करके वेरिफाई करे। यह हो जाने के बाद दोस्त के पास मैसेज पहुंचता है, जिसमें लिखा होता है कि मुझे व्हाट्सएप का नया रंग पसंद आया।

इसके साथ ही फेस यूआरएल भी दिया होता है। इस तरह के कई फर्जी यूआरएल वर्तमान में विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में चल रहे हैं। अधिकांश फर्जी यूआरएल में Cyrillic alphabet के अक्षर लिखे होते हैं। ऐसे में यदि यूजर थोड़ी सावधानी बरते तो आसानी से मैलेशियस मैसेज को पहचान सकता है।

इंडिपेंडेंट की खबर के अनुसार, यूरोप और भारत में इन दिनों व्हाट्सएप खासा लोकप्रिय हो रहा है। ऐसे में स्कैमर्स इसके यूजर्स को निशाना बना रहे हैं। यह चैटिंग ऐप दुनियाभर में 50 से अधिक भाषाओं में उपलब्ध है। अकेले भारत में ही यह 10 भाषाओं में बात करने की सुविधा दे रहा है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.