पुणे की अन्विता के बनाए डूडल से बाल दिवस मना रहा गूगलUpdated: Mon, 14 Nov 2016 08:27 AM (IST)

गूगल ने इसके लिए अपने सर्च इंजन होमपेज पर एक डूडल लगाया है।

पुणे। 14 नवंबर यानि बाल दिवस, चाचा नेहरू के जन्‍मदिन को पूरा देश इसी तरह मनाता रहा है। जहां आज देशभर में विभिन्‍न कार्यक्रम होंगे वहीं गूगल भी इस मौके को सेलिब्रेट कर रहा है। गूगल ने इसके लिए अपने सर्च इंजन होमपेज पर एक डूडल लगाया है।

बेहद खूबसूरत नजर आ रहा यह डूडल पुणे की 11 वर्षीया मासूम लड़की अन्विता प्रशांत तैलंग ने बनाया है। अन्विता को उसके इस डूडल के चलते, गूगल की डूडल 4 प्रतिस्पर्द्धा में राष्ट्रीय विजेता चुना गया था। बालवाड़ी इलाके में विबग्योर हाई स्कूल की छठी कक्षा की छात्रा को डूडल पर समर्पित उसके थीम टाइटल के लिए चुना गया है।

अन्विता ने थीम टाइटल 'यदि मैं किसी को कुछ पढ़ा सकूं, यह होगा' पर डूडल बनाया है।

गूगल इंडिया की मार्केटिंग प्रमुख सपना चड्ढा ने कहा कि हमारा लक्ष्य डूडल 4 गूगल प्रतिस्पर्द्धा के जरिये नई पीढ़ी के यूजर्स में रचनात्मकता, अभिलाषा और कल्पना को प्रोत्साहन देना था। हम अन्विता को इस वर्ष की विजेता होने पर बधाई देते हैं।

इस प्रतिस्पर्द्धा के लिए देश भर के 50 से ज्यादा शहरों से प्रविष्टियां प्राप्त हुई थी। कला की मेधा, रचनात्मकता और थीम संप्रेषण के आधार पर इनका मूल्यांकन किया गया।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.