बटुए की तरह मोड़कर रख सकेंगे यह स्मार्टफोनUpdated: Sat, 02 Apr 2016 07:20 PM (IST)

स्मार्टफोन बाजार में दबदबा बनाने को दुनियाभर की मोबाइल कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा चरम पर है।

मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। स्मार्टफोन बाजार में दबदबा बनाने को दुनियाभर की मोबाइल कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा चरम पर है। उत्पादों में इनोवेशन के बूते वे ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती हैं।

इसी कड़ी में स्मार्टफोन बनाने वाली दक्षिण कोरियाई कंपनी सैमसंग अनूठी पेशकश के लिए तैयार है। अगले साल तक वह बाजार में ऐसा स्मार्टफोन उतार सकती है जिसे आप मोड़कर बटुए की तरह जेब में रख सकेंगे। मुड़ जाने पर यह स्मार्टफोन पांच इंच का रह जाएगा।

लेकिन जब तह खुलेगी तो यह सात इंच का टैबलेट बन जाएगा। यानी स्मार्टफोन और टैबलेट एक ही डिवाइस में। दक्षिण कोरिया की न्यूज साइट ईटीन्यूज में इस स्मार्टफोन की खूबियों पर बातचीत की गई।

ईटीन्यूज के मुताबिक फोल्ड हो सकने वाले स्मार्टफोन को बनाने के लिए सैमसंग काफी समय से प्रयासरत है। इसे मूर्त रूप देने के लिए उसने तमाम तरह की तकनीकों में निवेश किया है। ऑर्गेनिक लाइट-एमिटिंग डायोड (ओएलईडी) डिस्प्ले का उपयोग करते हुए इसकी स्क्रीन को दो हिस्सों में मोड़ा जा सकेगा।

यह स्मार्टफोन पर्स की तरह जेब में जगह ले लेगा। डिस्प्ले का प्रोटोटाइप विकसित किया जा चुका है। बड़े पैमाने पर इसका उत्पादन शुरू करने की तैयारी है। सैमसंग डिस्प्ले के डायरेक्टर ली चांग-हून ने इस साल जनवरी में कहा था कि फोल्ड हो सकने वाले ओएलईडी पर योजना के अनुरूप काम हो रहा है।

उद्योग जगत के प्रतिनिधि के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया कि सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स बड़े पैमाने पर उत्पादन शुरू करने से पहले कई पहलुओं को पूरा कर लेना चाहती है। जल्दी में वह कोई कदम नहीं उठाएगी। वजह यह है कि उसके पास और कई महत्वपूर्ण कार्य पूरा करने के लिए हैं। माना जा रहा है कि सैमसंग का यह डिवाइस स्मार्टफोन बाजार में गेम-चेंजर साबित हो सकता है।

हाल ही में उद्योग चैंबर एसोचैम की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि कैमरा और इंटरनेट जैसे फीचर वाले स्मार्टफोन की बिक्री 2016-17 के दौरान 16 करोड़ तक होने की संभावना है। जबकि साल 2015-16 के दौरान यह आंकड़ा करीब 10 करोड़ रहने के आसार हैं।

इसमें यह बात भी सामने आई थी कि देश में फोटोग्राफी के प्रति बढ़ते रुझान के कारण इनकी मांग तूल पकड़ रही है। इसकी वजह से डिजिटल कैमरे की बिक्री में गिरावट आ रही है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.