फिर गरजा इस भारतीय विकेटकीपर का बल्ला, टीम को बनाया चैम्पियनUpdated: Mon, 20 Mar 2017 08:23 PM (IST)

फाइनल में बंगाल को 37 रन से दी शिकस्त। शमी ने वापसी करते हुए चार विकेट चटकाए

नई दिल्ली। दिनेश कार्तिक (112) के शानदार शतक के दम पर तमिलनाडु ने सोमवार को बंगाल को 37 रन से हराकर विजय हजारे ट्रॉफी पर कब्जा किया।

कार्तिक की संघर्षभरी पारी के अलावा तमिलनाडु के बाकी बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सके और बंगाल के सामने 218 रनों का आसान लक्ष्य रखा।

यह लक्ष्य भी बंगाल पर भारी पड़ा और उसकी पूरी टीम 45.5 ओवर में 180 रन पर सिमट गई। बंगाल की ओर से मोहम्मद शमी ने घातक गेंदबाजी करते हुए चार और अशोक डिंडा ने तीन विकेट चटकाए।

तमिलनाडु ने इस राष्ट्रीय एक दिवसीय चैंपियनशिप में तीसरी बार बंगाल को हराया है। इससे पहले उसने 2008-09 और 2009-10 में ऐसा किया था।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे तमिलनाडु की शुरुआत बेहद खराब रही।

उसने 49 रन तक गंगा श्रीधर राजू (04), कौशिक गांधी (15), बाबा अपराजित (03) और कप्तान विजय शंकर (02) के रूप में अपने चार अहम विकेट खो दिए थे।

इसके बाद बाबा इंद्रजीत (32) ने कार्तिक के साथ पांचवें विकेट के लिए 85 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर सौ के पार पहुंचाया।

इंद्रजीत दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हुए। कार्तिक ने शमी की गेंद पर सीधा शॉट खेला, लेकिन गेंद इंद्रजीत के कंधे से टकराकर मिड ऑन पर खड़े अभिमन्यु ईश्वरन के हाथों में चली गई। फिर ईश्वरन ने विकेट पर सीधा वार करते हुए इंद्रजीत को रन आउट कर दिया।

वाशिंगटन सुंदर (22) ने कार्तिक के साथ मिलकर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन 172 रन पर वाशिंगटन रन आउट हो गए। इसके बाद कोई भी बल्लेबाज नहीं टिक पाया। कार्तिक के रूप में टीम का आखिरी विकेट गिरा।

अपनी 120 गेंदों की पारी में 14 चौके जड़ने वाले कार्तिक, शमी की गेंद पर हिटविकेट होकर पैवेलियन लौटे। इस प्रकार तमिलनाडु की टीम 47.2 ओवर में 217 रन ही बना पाई।

बंगाल की तरफ से श्रीवत्स गोस्वामी (23) और अभिमन्यु ईश्वरन (01) सस्ते में आउट हो गए। कप्तान मनोज तिवारी भी सिर्फ 32 रन बना सके। विजय शंकर ने उन्हें बोल्ड किया।

सुदीप चटर्जी (58) और अनुस्तूप मजूमदार (24) ने पांचवें विकेट के लिए 65 रन जोड़े। स्पिनर राहिल शाह ने इस साझेदारी को तोड़ा। तमिलनाडु की तरफ से अश्विन, राहिल और एम मोहम्मद ने दो-दो विकेट लिए।

अटपटी-चटपटी

  1. जॉब के लिए नहीं डेटिंग के लिए बनाया मजेदार रिज्यूमे, जरा देखिए

  2. कार पर 100 पाउंड की 26 टिकट लगाई, जुर्माना कार से 20 गुना हुआ ज्यादा

  3. मालिक ने लावारिस छोड़ दिया था लेकिन ये डॉगी अब कर रहा है जॉब

  4. रातों-रात अंबानी-बिड़ला से ज्यादा धनवान हो गया यह शख्स, जानिए कैसे

  5. 18 साल बाद मिले मां-बेटे, दे बैठे एक-दूसरे को दिल

  6. 84 साल में पीएचडी करने वाले बुजुर्ग का नाम गोल्डन बुक में दर्ज

  7. मछली पकड़ने के लिए तालाब में फेंका जाल, आ गया मगरमच्छ

  8. मुफ्त इलाज करने वाले डॉक्टर ने खाया धोखा, खुद को नहीं बचा सका

  9. चुप हो जा बेटी, परीक्षा दे रही हूं, पढ़ लूंगी तो तुझे भी पढ़ाऊंगी

  10. ग्रेजुएट पत्नी ने पति को यूं बनाया साक्षर

  11. जिराफ जैसा बनने के लिए गर्दन में डाले छल्ले, लेकिन फिर हुआ ऐसा

  12. जमीन पर गिरा खाना 5 सेकेंड में उठाकर खाएं तो नहीं है नुकसान

  13. OMG! अपनी सुंदर बीवियों को कुरूप बना देते हैं यहां के लोग

  14. इन सवालों से पता चल जाएगा, कहीं एडल्ट फिल्मों के एडिक्ट तो नहीं

  15. फोटो शूट के दौरान ट्रैक में फंसी मॉडल, चली गई जान

  16. डॉगी से भी तेज नाक है इस करोड़पति महिला की, सूंघ लेती हैं कैंसर

  17. यह कैसी बीमारी: मॉडर्न घर से एलर्जी, अब झोपड़ी में आशियाना

  18. मां के शव के साथ कई दिनों भूखी-प्यासी रही तीन साल की बच्ची

  19. रेलवे ने नहीं दिया जुर्माना तो अदालत ने किसान के नाम कर दी ट्रेन

  20. FB पर अपनी मौत का लाइव प्रसारण करता रहा और देखती रही मंगेतर

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.