बंगाल क्रिकेट संघ के अध्‍यक्ष बने पूर्व कप्‍तान गांगुलीUpdated: Thu, 24 Sep 2015 02:58 PM (IST)

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का समर्थन मिलने के बाद पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) का अध्यक्ष बनना तय हो गया है।

कोलकाता। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के नए अध्यक्ष होंगे। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार शाम राज्य सचिवालय नवान्ना में सौरव समेत सीएबी के आला अधिकारियों के साथ लगातार दूसरे दिन बैठक करने के बाद नाटकीय ढंग से इसका एलान किया।

हालांकि इसके साथ ही उन्होंने यह भी साफ करने की कोशिश की कि यह निर्णय उनका या राज्य सरकार का नहीं है, बल्कि सीएबी के अधिकारियों ने आपस में विचार-विमर्श करने के बाद लिया है। दिवंगत जगमोहन डालमिया के पुत्र अभिषेक गांगुली की जगह संयुक्त सचिव का पदभार संभालेंगे। बुधवार को गांगुली ने कहा था कि वह इस समय कुछ नहीं कहेंगे।

डालमिया जी के निधन को अभी दो दिन ही हुए हैं और इस समय वह उनका उत्तराधिकारी बनने के बारे में सोचने की भी हिम्मत नहीं कर सकते। लेकिन 24 घंटे बीतते ही दादा ने मुख्यमंत्री की मौजूदगी में खुद कहा कि सीएबी के 117 सदस्यों की सहमति के बाद वह अध्यक्ष पद संभालने को तैयार हैं।

आठ अक्टूबर को ईडन गार्डंस में भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 मैच होना है इसलिए देर नहीं की जा सकती और जल्द सीएबी की गवर्निंग काउंसिल की बैठक बुलाई जाएगी। गांगुली ने कहा कि वह पिछले 12-13 महीने से सीएबी से जुड़े हुए हैं। हर चीज जीवन में नई होती है।

यह भी उनके लिए एक नई चुनौती होगी। इसके साथ ही अध्यक्ष पद के कई तगड़े दावेदारों का पत्ता कट गया, जिनमें सीएबी के वरिष्ठ पदाधिकारी व बीसीसीआई के पूर्व सदस्य चित्रक मित्रा व गौतम दासगुप्ता एवं सीएबी के कोषाध्यक्ष विश्वरूप डे प्रमुख हैं। डे ने गांगुली के अध्यक्ष चुने जाने पर इतना ही कहा कि किसी न किसी का इस पद के लिए चयन होना था।

गांगुली ने कहा- मैं अपने साथियों को धन्‍यवाद देना चाहता हूं, जिन्‍होंने मुझे इस जिम्‍मेदारी को संभालने का मौका दिया। मुझे इस जिम्‍मेदारी को तुरंत ही संभालना होगा, क्‍योंकि हमें बहुत बड़े अंतर की भरपाई करना है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.