धोनी IPL फाइनल में उतरने के साथ ही रचेंगे इतिहास, बनेगा कीर्तिमानUpdated: Thu, 18 May 2017 07:42 PM (IST)

महेंद्रसिंह धोनी 21 मई को हैदराबाद में आईपीएल 2017 के फाइनल में मैदान में उतरने के साथ ही इतिहास रच देंगे।

मल्टीमीडिया डेस्क। राइजिंग पुणे सुपरजायंट के दिग्गज खिलाड़ी महेंद्रसिंह धोनी 21 मई को हैदराबाद में आईपीएल 2017 के फाइनल में मैदान में उतरने के साथ ही इतिहास रच देंगे। धोनी का यह सातवां आईपीएल फाइनल होगा और वे यह विशेष उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन जाएंगे।

इस वक्त सबसे ज्यादा आईपीएल फाइनल खेलने का श्रेय चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के महेंद्रसिंह धोनी और सुरेश रैना के नाम पर दर्ज हैं। दोनों ने छह-छह बार आईपीएल फाइनल (2008, 2010, 2011, 2012, 2013 और 2015) में शिरकत की थी। एल्बी मॉर्केल, एस बद्रीनाथ और रविचंद्रन अश्विन 5-5 बार आईपीएल फाइनल में खेल चुके हैं। इन तीनों ने भी सीएसके का ही प्रतिनिधित्व किया था।

सीएसके पर लगे दो वर्ष के प्रतिबंध के चलते धोनी और रैना इस टीम को छोड़कर क्रमश: राइजिंग पुणे सुपरजायंट और गुजरात लॉयंस से खेलने लगे थे। राइजिंग पुणे सुपरजायंट ने मंगलवार को मुंबई में मुंबई इंडियंस को हराकर आईपीएल फाइनल में प्रवेश किया था और धोनी ने पुणे टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई और साथ ही इतिहास रचने का दरवाजा खोल दिया था। अजिंक्य रहाणे (56) और मनोज तिवारी (58) के अर्द्धशतकों के बाद धोनी की तूफानी पारी (40 रन, 26 गेंद) की मदद से पुणे ने 162 रनों का स्कोर बनाया था और इसके बाद मुंबई को 20 रनों से हराकर खिताबी मुकाबले में जगह बनाई थी।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.