INDvAUS: तेंडुलकर और ब्रेट ली के रिकॉर्ड को कोई खतरा नहींUpdated: Wed, 13 Sep 2017 02:47 PM (IST)

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज के दौरान सचिन तेंडुलकर और ब्रेट ली के रिकॉर्ड को कोई खतरा नहीं है।

मल्टीमीडिया डेस्क। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज 17 सितंबर से चेन्नई में शुरू होगी। सीरीज में दो दिग्गज टीमों के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद की जा रही है। स्टीव स्मिथ की ऑस्ट्रेलियाई टीम विराट कोहली के भारतीय जांबाजों को उन्हीं के घर में शिकस्त देने की पुरजोर कोशिश करेंगे।

इस सीरीज के दौरान कई कीर्तिमान बनेंगे तो कई ध्वस्त भी होंगे, लेकिन इन दो देशों के बीच वनडे क्रिकेट में सचिन तेंडुलकर और ब्रेट ली द्वारा बनाए रिकॉर्ड को कोई खतरा नजर नहीं आ रहा है। इन दो देशों के बीच वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड तेंडुलकर तो सबसे ज्यादा विकेट लेने का कीर्तिमान ब्रेट ली के नाम दर्ज है।

सचिन के रिकॉर्ड के करीब पहुंचना भी मुश्किल :

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अभी तक 123 वनडे खेले गए हैं जिनमें से सचिन तेंडुलकर ने 71 मैचों में हिस्सा लिया। सचिन के नाम इन 71 मैचों में 44.59 की औसत से 3077 रन दर्ज है। उन्होंने ये रन 9 शतक और 15 फिफ्टी की मदद से बनाए हैं। इस सूची में रिकी पोंटिंग (59 मैचों में 2164 रन) दूसरे क्रम पर है।

वर्तमान सीरीज में खेलने वाले दोनों टीमों के खिलाड़‍ियों की बात की जाए तो रोहित शर्मा (23 मैचों में 68.26 की औसत से 1297 रन) के नाम सबसे ज्यादा रन दर्ज है। रोहित को यदि सचिन का रिकॉर्ड ध्वस्त करना है तो उन्हें इस सीरीज में 1781 रन और बनाने होंगे, जो पांच मैचों की सीरीज में किसी भी हाल में संभव नहीं ‍है।

इस सूची में महेंद्रसिंह धोनी 43 मैचों में 1255 दूसरे क्रम पर है जबकि ऑस्ट्रेलिया के वर्तमान खिलाड़‍ियों में से एरोन फिंच के नाम 14 मैचों में 580 रन दर्ज है। विराट कोहली भारतीय खिलाड़‍ियों में तीसरे (23 मैच 1002 रन) और स्टीव स्मिथ कंगारू खिलाड़‍ियों (9 मैच, 467 रन) में दूसरे क्रम पर हैं। इसके चलते किसी भी खिलाड़ी द्वारा इस सीरीज के दौरान भारत-ऑस्ट्रेलिया वनडे क्रिकेट में सचिन के सबसे ज्यादा रनों के रिकॉर्ड को कोई खतरा नहीं है।

गेंदबाजों में ब्रेट ली अव्वल :

इसी तरह भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच यदि सबसे सफल वनडे गेंदबाज की बात की जाए तो धुरंधर गेंदबाजों को छोड़कर ब्रेट ली शीर्ष पर है। ली ने 32 मैचों में 21.00 की औसत से 55 विकेट अपने नाम किए हैं। कपिल देव 41 मैचों में 45 विकेटों के साथ इस सूची में दूसरे क्रम पर है। यदि वर्तमान सीरीज में हिस्सा लेने वाले गेंदबाजों की बात की जाए तो भारत के उमेश यादव 10 मैचों में 17 विकेट के साथ सबसे सफल है। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से जेम्स फॉकनर 14 मैचों में 16 शिकार कर चुके है। दोनों टीमों के वर्तमान गेंदबाजों के प्रदर्शन को देखा जाए तो ली के रिकॉर्ड को कोई चुनौती नजर नहीं आती है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.