द्रविड़ और जहीर की नियुक्ति के मामले में बीसीसीआई का यू-टर्नUpdated: Sat, 15 Jul 2017 07:42 PM (IST)

बीसीसीआई सीअोए ने साफ किया कि चीफ कोच रवि शास्त्री की सलाह से ही टीम के सपोर्ट स्टाफ की नियुक्ति की जाएगी।

नई दिल्ली। बीसीसीआई ने राहुल द्रविड़ को बल्लेबाजी सलाहकार और जहीर खान को गेंदबाजी सलाहकार नियुक्त करने के फैसले पर पलटी मार दी है।

बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति (सीओए) ने साफ किया कि भारतीय क्रिकेट टीम के सहयोगी स्टाफ को मुख्य कोच रवि शास्त्री के साथ सलाह के बाद ही 22 जुलाई तक नियुक्त किया जायेगा। सीओए के इस बयान के बाद जहीर खान और राहुल द्रविड़ की नियुक्तियों पर फिलहाल के लिए विराम लग गया है। इस तरह बीसीसीआई अब द्रविड़ और जहीर की नियुक्ति के मामले में पलट गया है।

बीसीसीआई ने 11 जुलाई को द्रविड़ की बल्लेबाजी सलाहकार और जहीर की गेंदबाजी सलाहकार के रूप में नियुक्ति की घोषणा की थी। सीओए के सदस्यों विनोद राय, डायना इदुलजी और बीसीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राहुल जौहरी के बीच बैठक में सीओए ने शास्त्री की नियुक्ति को मंजूरी दी। हालांकि समिति ने यह साफ नहीं किया कि द्रविड़ और जहीर सलाहकार के तौर पर कुछ विदेशी दौरों के लिये शामिल होंगे या नहीं जैसा कि बीसीसीआई की तरफ से दावा किया गया था।

बैठक से मिली खबरों के मुताबिक टीम में अन्य सलाहकारों की नियुक्तियां समिति द्वारा मुख्य कोच के साथ सलाह के बाद ही तय की जायेगी। सीओए ने नव नियुक्त मुख्य कोच शास्त्री और अन्य सहयोगी स्टाफ के सदस्यों के वेतन पर फैसला करने के लिये चार सदस्यीय पैनल का गठन किया था जिसमें बोर्ड के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना और जौहरी शामिल हैं।

इदुलजी और बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी समिति के अन्य सदस्य हैं, जो 19 जुलाई को बैठक करेंगे। शनिवार को सीओए की बैठक के बाद इसका फैसला किया गया। नई समिति 22 जुलाई को अपनी सिफारिशें सीओए को देगी जबकि टीम तीन दिन पहले 19 जुलाई को श्रीलंका दौरे के लिये रवाना होगी।

राय ने बैठक के बाद पत्रकारों से कहा कि हमने रवि शास्त्री को मुख्य कोच रखने के लिये सीएसी की सारी सिफारिशें देखी और हम उनके साथ अन्य कोचों की नियुक्ति के बारे में चर्चा करेंगे। हमने एक समिति गठित की है और वे सीएसी से बात करेंगे और शास्त्री से बात करने के बाद उनसे बात करेंगे। सहयोगी स्टाफ पर फैसला मुख्य कोच की सलाह के बाद ही किया जायेगा।

सीओए ने साफ किया कि जहीर और द्रविड़ के नाम की सिर्फ सिफारिश की गई थी उनकी नियुक्ति नहीं। उन्होंने कहा कि अभी अनुबंध जैसी कोई चीज नहीं है। ये सिर्फ सिफारिश थीं, नियुक्ति नहीं। सिफारिश की गयी थी और सीओए को सिफारिश के हिसाब से काम करना है और इन सिफारिशों पर मुख्य कोच की सलाह के बाद ही काम किया जायेगा। भारत 26 जुलाई को श्रीलंका के खिलाफ पहला टेस्ट खेलेगा।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.