13 माह बाद देवगुरु बृहस्पति करेंगे तुला राशि में प्रवेशUpdated: Tue, 12 Sep 2017 03:53 AM (IST)

तुला राशि में देव गुरु न्यायप्रिय, संतुलन बनाने वाला लौकिक और परालौकिक दोनों क्षमताओं से संपन्न होगा।

ग्वालियर। देवगुरु बृहस्पति 13 माह बाद मंगलवार को सुबह 6.51 बजे कन्या राशि से तुला राशि में प्रवेश करेंगे। इससे पांच राशियों के जातकों को विशेष रूप से लाभ होगा। गुरू का तुला राशि में प्रवेश चित्रा नक्षत्र के तीसरे चरण में होगा। इससे मेष, मिथुन, कन्या, धनु एवं कुंभ राशि के जातकों को विशेष लाभ होगा।

सात्विक देवगुरु बृहस्पति राजसिक गुरु शुक्राचार्य के घर तुला राशि में जा रहे हैं। तुला राशि में देव गुरु न्यायप्रिय, संतुलन बनाने वाला लौकिक और परालौकिक दोनों क्षमताओं से संपन्न होगा।

तुला राशि का स्वामी शुक्र वृहस्पति की राशि मीन में अपनी श्रेष्ठतम उच्चता को प्राप्त करते है, इसलिए देवगुरु एवं दैत्यगुरु में अन्योन्याश्रित संबंध है। वैसे गुरु का संबंध जीवन के विभिन्न आयामों से होता है, किन्तु गुरु का संबंध सबसे अधिक ज्ञान से है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.