मोती ऐसे चमका सकता है किस्मतUpdated: Thu, 28 Jul 2016 10:41 AM (IST)

पांच अगरबत्ती चंद्रदेव को समर्पित करते हुए प्रज्जवलित करें।

कहा जाता है कि मोती को धारण करने से किस्मत चमक सकती है। मोती शुक्ल पक्ष में रोहिणी, हस्त, श्रवण नक्षत्रों में धारण करना चाहिए।

ज्योतिष शास्त्र में उल्लेखित है कि मोती को सोमवार सुबह या शाम के समय चांदी से बनी अंगूठी को कनिष्ठा में धारण करने से लाभ होता है। गोलाकार मोती उत्तम बताया गया है।

मोती को चंद्र ग्रह का रत्न कहा गया है। वैसे तो रत्न चौरासी प्रकार के होते हैं, लेकिन उनमें से माणिक्य, मोती, पन्ना, हीरा, नीलम इन्हें पंच महारत्न कहा जाता हैं। गोल और लंबे मोती धारण करना कई प्रकार से लाभदायी सिद्ध बताया गया है।

जिन जातकों को गुस्सा अधिक आता है उन्हें मोती धारण करने से फायदा होता है। इससे मानसिक शांति मिलती है। मोती कई प्रकार के होते हैं जैसे: अभ्र मोती, शंख मोती, शुक्ति मोती, सर्प मोती, गज मोती, बांस मोती, शूकर मोती और मीन मोती। मोती धारण करने से पहले 8 से 15 रत्ती का मोती चांदी की अंगूठी में जड़वा कर धारण करें।

पढ़ें:ये हैं प्रमाण श्रीकृष्ण ने लिया था द्वापरयुग में जन्म

शुक्ल पक्ष में पड़ने वाले प्रथम सोमवार को चंद्रोदय होने पर दूध में गंगाजल, शहद और चीनी का मिश्रण बनाकर उसमें अंगूठी डालें। पांच अगरबत्ती चंद्रदेव को समर्पित करते हुए प्रज्जवलित करें। अंगूठी के चारों तरफ घूमाएं और इसे गंगा जल में धोकर अनामिका अंगुली में धारण करें।

नोट: मोती धारण करने से पहले किसी विषय विशेषज्ञ या विद्वान ज्योतिषी की सलाह जरूर लें।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.