Live Score

मैच ड्रॉ मैच समाप्‍त : मैच ड्रॉ

Refresh

नौ दिन, नौ रत्नः सूर्य का रत्न माणिक्य, जानें किसे और कब पहनना हैUpdated: Sun, 12 Nov 2017 08:35 AM (IST)

माणिक्य उच्च कोटि का मान-सम्मान एवमं पद प्राप्ति, शत्रु से सुरक्षा, ऋण मुक्ति करवाता है। सत्ता और राजनीति से जुड़े लोगो को धारण करना चाहिए।

मल्टमीडिया डेस्क। माणिक्य रत्न, सूर्य का प्रतिनिधित्व करता है। यह लाल या हलके गुलाबी रंग का होता है। यदि जातक की कुंडली में सूर्य शुभ प्रभाव में होता है, तो माणिक्य धारण करने से अच्छे स्वास्थ्य के साथ साथ पद-प्रतिष्ठा, अधिकारियों से लाभ मिलता है।

माणिक्य उच्च कोटि का मान-सम्मान एवमं पद प्राप्ति के साथ ही शत्रु से सुरक्षा, ऋण मुक्ति करवाता है। सत्ता और राजनीति से जुड़े लोगो को माणिक्य अवश्य धारण करना चाहिए, क्योंकि यह रत्न सत्ता धारियों को एक ऊंचे पद तक पहुचाने में बहुत सहायक होता है।

इन लोगों को पहनना चाहिए माणिक्य

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जिनकी राशि अथवा लग्न सिंह, मेष, वृश्चिक, कर्क एवं धनु है, उनके लिए माणिक्य रत्न धारण करना बहुत शुभ होता है। इसे धारण करने से दूषित विचारों को नियंत्रित करने में सफलता मिलती है। धार्मिक आस्था एवं पद-प्रतिष्ठा का लाभ मिलता है।

इन लोगों को नहीं करना चाहिए धारण

कन्या, मकर, मिथुन, तुला और कुंभ लग्न में माणिक्य नुकसान देता है। इसके अलावा हाई बीपी या दिल की बीमारी हो, तो भी माणिक्य नहीं पहनना चाहिए। जिनका संबंध पिता के साथ ठीक नहीं है, उन्हें भी माणिक्य नुकसान दे सकता है। शनि से जुड़े क्षेत्रों में हैं तो माणिक्य धारण न करें।

ऐसे पहनें

लाल या हलके गुलाबी रंग का पारदर्शी माणिक्य ताम्बे की या स्वर्ण अंगूठी में किसी भी शुक्लपक्ष के प्रथम रविवार के दिन सूर्य उदय के पश्चात अपने दाएं हाथ की अनामिका में धारण करें।अंगूठी के शुद्धिकरण और प्राण प्रतिष्ठा के लिए सबसे पहले अंगूठी को दूध, गंगाजल, शहद, और शक्कर के घोल में डालें और फिर उसे धूप दिखाएं।

सूर्य देव से प्रार्थना करते हुए यह भाव मन में लाएं कि- हे सूर्य देव मैं आपका आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए यह रत्न धारण कर रहा हूं। मुझे आशीर्वाद प्रदान करें।

नौ दिन, नौ रत्नः मंगल का रत्न मूंगा, जानें किसे और कब पहनना है

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.