ज्यादा उबासी यानी खतरा, आप भी खुद पर रखें नजरUpdated: Thu, 14 Sep 2017 11:21 AM (IST)

उबासी या जम्हाई से बचान है तो आजमाए ये तरीके।

नई दिल्ली। उबासी या जम्हाई (Yawning) सामान्य बात है। कोई इन्सान नहीं होगा, जो ऐसा न करता हो। लेकिन बहुत ज्यादा उबासी आना क्या दर्शाता है? क्या यह भी सामान्य बात है या इसके पीछे सेहत से जुड़ा कोई बड़ा राज है?

आमतौर पर माना जाता है कि ज्यादा उबासी आ रही है यानी रात में नींद पूरी नहीं हुई है। लेकिन यह उबासी किसी गंभीर बीमारी का संकेत भी देती है। मसलन - हर रोज बार-बार उबासी आने का मतलब है कि व्यक्ति का लिवर ठीक काम नहीं कर रहा है। ऐसे में तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए।

इसके अलावा हाई ब्लड प्रेशर और थायरॉइड वाले लोगों को भी बहुज ज्यादा उबासियां आती हैं। जिन दफ्तरों में कर्मचारियों पर काम का अतिरिक्त दबाव होता है, वहां भी लोग बार-बार उबासी लेते हैं।

ऐसे कंट्रोल करें उबासी

उबासी को कंट्रोल करना है तो पानी को अपनी साथी बनाने की सलाह दी जाती है यानी बार-बार पानी पिएं। दिन में कम से कम 8 ग्लास पानी पीना चाहिए। ज्यादा पानी पिएंगे तो उबासी नहीं आएगी।

ऑफिस में उबासी आने पर थोड़ा चलना-फिरना लाभकारी होता है। इससे आप फ्रेश महसूस करेंगे। शरीर में ऑक्सीजन की कमी पूरी हो जाएगी।

तापमान बढ़ने से भी उबासी बढ़ती है। इसलिए गर्मी के मौसम में कहीं जा रहे हैं या मीटिंग में शामिल होने वाले हैं तो खुद को ठंडा रखें।

भारी खाना खाने के बजाए फल खाएं। गलत खान-पान से भी उबासियां आती हैं। तला-गला या स्पायसी न खाएं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.