जोड़ों में दर्द है, तो सिर्फ एक घंटे बांधे पत्ता गोभी और देखें असरUpdated: Sun, 05 Nov 2017 05:31 PM (IST)

पत्ता गोभी रक्त और यकृत से विशाक्त पदार्थों को दूर करती है और गठिया के इलाज में भी कारगर है।

मल्टीमीडिया डेस्क। पत्ता गोभी कई तरह के स्वास्थ्य लाभ देती है और एंटीऑक्सिडेंट से भर-पूर होने की वजह से यह त्वचा के लिए बेहतरीन है। इसके अलावा विटामिन, आयरन और पोटेशियम का समृद्ध स्रोत होने की वजह से यह पश्चिमी और पूर्वी व्यंजनों में इस्तेमाल की जाती है।

यह रक्त और यकृत से विशाक्त पदार्थों को दूर करती है और गठिया के इलाज में भी कारगर है। पत्ता गोभी को खाने से त्वचा फिर से तरो-ताजा हो जाती है। इसे त्वचा पर लगाने से स्किन इरिटेशन खत्म होता है। मुहांसों के इलाज, घावों को भरने, काटने, एक्जिमा, चकत्ते, पैरों के छाले और लालिमा ठीक होती है।

इसमें उच्च मात्रा में विटामिन सी होने के कारण यह उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमा कर देती है। इसके अलावा इसमें विटामिन डी और ए में उच्च मात्रा होते हैं, जो त्वचा को अच्छा बनाए रखने में मददगार होती है और पराबैंगनी किरणों से त्वचा की कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाती है।

जोड़ों के दर्द को करती है दूर -

जोड़ों के दर्द के लिए पत्ता गोभी बेहद कारगर है, जानें इसे कैसे करना है इस्तेमाल। सबसे पहले गोभी के बाहरी पत्ते निकालें और इसे अच्छी तरह धो लें। इसे सूखने के लिए छोड़ दें और इसके कठोर हिस्से को हटा दें। इसके बाद इसके ऊपर रोलिंग पिन को लगाएं, जिससे इसका रस निकलता रहे।

फिर, इसे एक एल्युमिनियम फॉइल में लपेटकर इसे गर्म करने के लिए कुछ मिनट के लिए ओवन में डाल दें। इसके बाद इसे उस जगह पर लगाएं, जहां जोड़ों में दर्द होता है। इसके ऊपर से पट्टी बांध दें, ताकि यह अपनी जगह से हटे नहीं। एक घंटे बाद, इसे हटा दें। इस प्रक्रिया को 2-3 बार दोहराएं। यदि आपको ठंडक पसंद है, तो फ्रिज में गोभी के पत्तों को रखें और दर्द वाली जगहों पर इसे लगा दें।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.