OMG: ज्यादा नमक खाने से भी होती है डायबिटीजUpdated: Sat, 16 Sep 2017 09:24 AM (IST)

लंदन में हुए एक अध्ययन के मुताबिक, नमक का ज्यादा सेवन भी डायबिटीज का कारण बनता है।

लंदन। डायबिटीज से बचान है तो केवल शक्कर से परहेज करना नाकाफी है। लंदन में हुए एक अध्ययन के मुताबिक, नमक का ज्यादा सेवन भी डायबिटीज का कारण बनता है।

अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि ज्यादा नमक यानी ज्यादा सोडियम खाने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है, लेकिन अब पता चला है कि यह डायबिटीज की बीमारी में भी भूमिका अदा करता है।

लिस्बन में आयोजित यूरोप एसोसिएशन फॉर द स्टडी ऑफ डायबिटीज (ईएएसडी) की वार्षिक बैठक में यह खुलासा किया गया है।

जो लोग एक दिन में 2.5 ग्राम ज्यादा नमक खाते हैं, उनमें डाइप 2 डायबिटीज का खतरा 43 फीसदी अधिक होता है। वहीं यदि आप शरीर की जरूरत से 7.3 ग्राम अधिक नमक का सेवन करते हैं तो इस डायबिटीज का खतरा बढ़कर 72 फीसदी हो जाएगा।

डॉक्टरों का कहना है कि नमक में 40 फीसदी सोडियम होता है, जो इंसुलिन पर सीधा असर डालता है। इस कारण हाई ब्लड प्रेशन और मोटापे की शिकायत होती है।

वयस्कों में नमक का यह खतरा अधिक है। इनके ज्यादा नमक खाने से लेटेंट ऑटोइम्युन डायबिटीज इन एडल्ट्स (LADA) बीमारी होती है जो एक तरह से टाइप 1 डायबिटीज है।

ईएएसडी की बैठक में लीड ऑथर बहारेह रासौली ने कहा, हम इस बात की पुष्टि करते हैं कि सोडियम का सीधा संबंध टाइप 2 डायबिटीज से है।

घबराएं नहीं, यूं दूर हो सकती है यह बीमारी

लोगों को यही लगता है कि डायबिटीज एक लाइलाज बीमारी है लेकिन एक नई रिसर्च में इसके ठीक करने का उपाय मिल गया है। हाल ही में यूके के न्यूकैसल यूनिवर्सिटी में हुए रिसर्च में मिले परिणाम डायबिटीज के मरीजों के लिए खुशखबर लेकर आए हैं। यूनिवर्सिटी के प्रो. रॉय टेलर के मुताबिक अगर आप कम कैलोरी की डाइट लेंगे तो यह बीमारी धीरे-धीरे कम होने लगेगी।

वे बताते हैं कि टाइप 2 डायबिटीज लीवर और पैनक्रियाज पर ज्यादा फैट जमा होने से होती है। इसके कारण लीवर पर ज्यादा ग्लूकोस बनाने लगता है, इसलिए यदि कम कैलोरी वाली डाइट लें तो यह सिचुएशन ठीक हो सकती है।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.