अब राजस्थान के स्कूलों में भी होगी सख्ती, तैयार होगी गाइडलाइन्सUpdated: Wed, 13 Sep 2017 12:06 PM (IST)

अभिभावकों के स्कूल प्रशासन का तालमेल हो इसके लिए पैरेंट-टीचर्स मीटिंग पर जोर दिया जाएगा।

जयपुर। गुडगांव के रेयान स्कूल में हुई घटना से सबक लेते हुए राजस्थान में भी सरकार चेती है और शिक्षा विभाग ने यहां के सरकारी और निजी स्कूलों बाल वाहिनी से लेकर कर्मचारियों की नियुक्ति जैसे मामालें में सख्ती की तैयारी की है। इसके लिए गाइडलाइन्स तैयार की जा रही हैं।

राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने बताया कि उन्होंने विभाग के अधिकारियों से चर्चा की है और स्कूलों के लिए कुछ दिशानिर्देश तैयार किए जा रहे है। इसके तहत स्कूलों को अपने यहां नियुक्त स्टाफ की तमाम जानकारियां अभिभावकों से साझा करनी होगी। इन्हें सार्वजनिक तौर बोर्ड पर प्रदर्शित करना होगा।

अभिभावकों के स्कूल प्रशासन का तालमेल हो इसके लिए पैरेंट-टीचर्स मीटिंग पर जोर दिया जाएगा। बाल वाहिनियों को चलाने वाले कर्मचारियों के पुराने रिकॉर्ड की तस्दीक के बाद ही उन्हें स्कूलों में नियुक्त करना होगा और उनका पूरा रिकार्ड अभिभावकों को भी बताना होगा। स्टाफ की ट्रेनिंग और उनकी संवेदशीलता परखी जाएगी।

इसके अलावा बच्चों की काउंसलिंग और स्कूलों में बच्चों के लिए शिकायत पेटिकाएं रखना अनिवार्य किया जाएगा। देवनानी का कहना है कि वे अधिकारियों को निर्देशित कर चुके है। जल्द ही दिशा निर्देश जारी होेंगे और विभाग खुद इनकी सख्ती से माॅनिटरिंग करेगा।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.