इस दिवाली से अगली दिवाली तक कर लें ये फैसलेUpdated: Sat, 07 Nov 2015 07:07 PM (IST)

वित्तीय हालात सुधारने के लिए कड़े फैसलों की जरूरत होती है, तो इस दिवाली आप इसकी तैयारी कर लें

भुवना श्रीराम

फ्रीडम फाइनेंशियल प्लानर

दिवाली के दिन एक तरफ हम पैसे खर्च कर रहे होते हैं तो दूसरी तरफ सोना खरीद कर पैसा बचा रहे होते हैं। अगर इस पैसे को ठीक से खर्च किया जाए और सही जगह निवेश किया जाए तो आप कई गुना रिटर्न कमा सकते हैं। नईदुनिया में एक्सपर्ट की नजर से देखें कि इस दिवाली से अगली दिवाली तक शेयर बाजार, कमोडिटी, रियल एस्टेट और प्रॉपर्टी जगत में क्या हलचल होने वाली है और ये आपको कैसे प्रभावित कर सकती है। अपने वित्तीय जीवन को सुधारने के लिए कड़े फैसलों की जरूरत होती है तो इस दिवाली आप इसमें बदलाव का संकल्प लें।

इस दिवाली आप अपने पर्सनल फाइनेंस से जुड़े फैसलें लें और अगली दिवालाी से पहले ही उससे मिलने वाले लाभ उठाएं। कई बार हम अपनी वित्तीय जरूरतों से जुड़े फैसले लेने में हिचकते हैं। दिवाली पर सोना या दूसरी चीजें खरीदते हैं। इस बार थोड़ा बदलाव करें और वित्तीय लक्ष्यों के लिए निवेश शुरू करें।

इस दिवाली ये फैसलें लें

अपने ऊपर खर्च करें

पर्सनल फाइनेंस के लेख में ये थोड़ा अजीब लगेगा। हर सलाहकार आपको कम खर्च और ज्यादा बचाने की सलाह देता है। लेकिन मैं आपको ज्यादा खर्च के लिए कह रही हूं। हॉं खर्च करने के लिए और अपने ऊपर खर्च करने के लिए। खर्च करें नए अनुभव के लिए, नई चीजें सीखने के लिए, अपने को संतुष्ट करने के लिए और अच्छे से जीने के लिए।

इस दिवाली अपने खर्च को इस तरह मैनेज करें। अपनी आय को 100 फीसदी मानकर इस तरह खर्च करें

  • आय का 55 फीसदी -जीवन की जरूरतें पूरी करने के लिए (खाना, कपड़ा, घर, लोन इंश्योरेंस)
  • आय का 10 फीसदी- अपने जीवन के लक्ष्य पूरे करने के लिए (बच्चों के भविष्य और घर के लिए)
  • आय का 10 फीसदी- वित्तीय रूप से सक्षम बनने के लिए (रिटायरमेंट, नए कारोबार के लिए)
  • आय का 10 फीसदी- अपने को शिक्षित करने के लिए (नई स्किल , किताबों के लिए)
  • आय का 10 फीसदी- मनोरंजन के लिए (छुट्टी, गिफ्ट के लिए)
  • आय का 5 फीसदी - समाज को वापस (अच्छे काम या चेरिटी पर)

बेसिक इंश्योरेंस खरीदें

अपने परिवार के लिए सबसे बड़ी दौलत आप हैं। अपनी हेल्थ और जीवन को रिस्क से सुरक्षित करें। कई अच्छे परिवारों को भी बुरे दिन देखने पड़ते हैं क्योंकि उन्होंने इमरजेंसी के लिए कोई योजना नहीं बनाई होती है। कम से कम ये इंश्योरेंस जरूर करवा लें

  • टर्म इंश्योरेंस- आपकी वार्षिक आय का 10 गुना कवर हो
  • हेल्थ इंश्योरेंस- कम से कम 3 से 5 लाख का फैमिली फ्लोटर प्लान
  • पर्सनल एक्सीडेंट इंश्योरेंस- 2 साल की आय के बराबर
  • होम इंश्योरेंस- घर की कीमत के मुताबिक

ज्यादा ब्याज का लोन चुका दें

अगर आपके पास ऐसा कोई लोन है जिस पर 12 फीसदी ब्याज चुका रहे हैं तो उसे जल्द से जल्द चुकता कर दें। अपने बोनस या अपनी रेगुलर आय से कुछ रकम बचाकर इस लोन को चुकता करने की कोशिश करें। ब्याज आपकी आय खा जाता है। ब्याज से आप नहीं जिसे ब्याज दे रहे हैं वो अमीर होता है।

अपने लक्ष्यों के लिए निवेश करें

निवेश की शुरूआत कर दें। निवेश हमेशा किसी लक्ष्य को लेकर करें। आपको अपनी बेटी की शिक्षा के लिए निवेश करें। नए घर की डाउनपेमेंट के लिए पोस्ट ऑफिस के रिकरिंग डिपॉजिट में निवेश करें। अपने रिटायरमेंट के लिए म्युचुअल फंड या एनपीएस में पैसा लगाएं।

हमेशा निवेश का अपने लक्ष्य को देखते हुए करें। अपने दोस्तों को देखकर कभी निवेश न करें। इस साल निवेश की शुरूआत कर दें।

अपनी वसीयत लिख दें

आपको ये लगता है कि ये जरूरी नहीं है तो पहले इन सवालों का जवाब दें

  • क्या आपके पास बैंक या निवेश किया हुआ कोई पैसा है?
  • क्या आपको प्यार करने वाले लोग हैं?
  • क्या आपको लगता है कि आपका पैसा आपके परिवार को मिले?
  • अगर आपका जवाब हां में है तो आपको वसीयत जरूर बनानी चाहिए।

जीवन अनिश्चित है। आपके परिवार को पता चलना चाहिए कि आप उनके लिए क्या कर रहे हो। कम से कम वो सुरक्षित रहें। उन्हें इस बात का पता होना चाहिए कि आपने जो उनके लिए बचाया है वो उन्हें कैसे मिलेगा।

तो इस दिवाली की शुरूआत इन फैसलों से करें और अपनी अगली दिवाली भी सुरक्षित तरीके से मनाएं।

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.