शशिकला को VIP ट्रीटमेंट, डीआईजी रूपा ने दोहराई जांच की मांगUpdated: Thu, 13 Jul 2017 01:15 PM (IST)

जेल में बंद एआईएडीएमके प्रमुख वी शशिकला को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलने का आरोप लगाने वालीं डीआईजी डी रूपा अपने रुख पर कायम हैं।

बेंगलुरु। जेल में बंद एआईएडीएमके प्रमुख वी शशिकला को वीआईपी ट्रीटमेंट मिलने का आरोप लगाने वालीं डीआईजी डी रूपा अपने रुख पर कायम हैं और अब भी मामले की जांच करने की मांग कर रही हैं। वहीं अपने काम पर उठ रहे सवालों के जवाब में उन्‍होंने गुरुवार को कहा कि वह सरकार द्वारा स्‍वीकृत छुट्टी पर थीं। कहा जा रहा है कि उन्‍होंने अपनी ड्यूटी सही तरीके से नहीं निभाई है।

आपको बता दें कि डीआईजी रूपा ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि परप्‍पन अग्रहर सेंट्रल जेल में बंद शशिकला को वीआईपी ट्रीटमेंट मिल रहा है। उनके खाने के लिए जेल में एक स्‍पेशल किचन बनाया गया है और इसके लिए उन्‍होंने अधिकारियों को दो करोड़ रुपए की रिश्‍वत दी थी। वहीं इसमें डीजीपी एचएन राव के भी शामिल होने की बात कही गई है।

डीआईजी रूपा ने कहा, मैं सरकार द्वारा स्‍वीकृत छुट्टी पर थी और जब मैं वापस आई तो यह पाया। जो भी हो रहा है, उसकी जांच होने दीजिए। वहीं उन्‍होंने इस बात से भी इन्कार किया कि रिपोर्ट ऑफिस ऑवर्स के बाद भेजी गई थी। उन्‍होंने कहा कि यह करीब शाम साढ़े चार बजे भेजी गई थी, जो वर्किंग ऑवर्स में शामिल है।

गौरतलब है कि डीजीपी एचएन राव द्वारा अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इंकार किए जाने के बाद डीआईजी रूपा का यह स्‍पष्‍टीकरण बयान सामने आया है। डीजीपी एचएन ने कहा है कि रूपा द्वारा लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.