चंद्रगुप्त के बहाने नाईक के उप्र सरकार पर तंजUpdated: Wed, 22 Apr 2015 11:37 PM (IST)

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर तंज करते हुए राज्यपाल राम नाईक ने एक बार फिर अखिलेश सरकार को निशाने पर लिया।

लखनऊ। पुलिस आधुनिकीकरण के दावे और उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर तंज करते हुए राज्यपाल राम नाईक ने एक बार फिर अखिलेश सरकार को निशाने पर लिया। बुधवार को सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य की 2359 वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि लखनऊ को सीसीटीवी कैमरों से लैस किया गया है, लेकिन पुलिस अपराधियों को नहीं पकड़ पाती है।

हसनगंज में तीन कर्मियों की हत्या कर कैश वैन को लूटा जाना इसका उदाहरण है। सम्राट चंद्रगुप्त के कार्यकाल में सीसीटीवी की सुविधा नहीं थी लेकिन उन्होंने बंगाल से कर्नाटक और गुजरात तक व्यवस्था सुधार दी थी। आचार्य चाणक्य का संदर्भ रखते हुए कहा कि प्रजा के सुख और भलाई में ही राजा का सुख और भलाई है।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भी कहा था कि देश में रामराज्य होना चाहिए। अंत समय में भी उनके मुख से "हे राम" निकला था, लेकिन अब कुछ लोगों को राम के नाम से भी एलर्जी हो गई है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.