दिन में घोषित यूपी बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम शाम को स्थगितUpdated: Fri, 09 Dec 2016 12:02 AM (IST)

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा-2017 के गुरुवार को दिन में जारी कार्यक्रम पर देर शाम चुनाव आयोग ने रोक लगा दी।

लखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा-2017 के गुरुवार को दिन में जारी कार्यक्रम पर देर शाम चुनाव आयोग ने रोक लगा दी। इजाजत के बगैर परीक्षा की तिथियां घोषित करने पर आयोग ने सख्त रुख अख्तियार करते हुए शुक्रवार को सूबे के मुख्य निर्वाचन अधिकारी और प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा व निदेशक माध्यमिक शिक्षा को दिल्ली तलब भी कर लिया है।

शुक्रवार को आयोग की बैठक के बाद 16 फरवरी से 20 मार्च के दरमियान परीक्षा के कार्यक्रम के साथ ही विधानसभा चुनाव की तिथियों की भी कुछ हद तक तस्वीर साफ हो सकती है। दरअसल, माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव शैल यादव ने गुरुवार मध्यान्ह में यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 16 फरवरी से 20 मार्च तक कराए जाने का कार्यक्रम घोषित किया।

परीक्षा कार्यक्रम की जानकारी मिलते ही हरकत में आए चुनाव आयोग ने राज्य के प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा जितेन्द्र कुमार से संपर्क किया। बिना अनुमति के घोषित किए गए परीक्षा कार्यक्रम पर एतराज जताते हुए आयोग ने फिलहाल परीक्षा कार्यक्रम रोकने के निर्देश दिए।

आयोग के कड़े रुख पर प्रमुख सचिव ने परिषद सचिव को परीक्षा का कार्यक्रम स्थगित करने के साथ ही गजट न जारी करने के निर्देश दिए हैं। इस बीच शुक्रवार को चुनाव आयोग ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी. वेंकटेश के साथ ही प्रमुख सचिव माध्यमिक जितेन्द्र कुमार और निदेशक माध्यमिक अमरनाथ वर्मा को दिल्ली बुलाया है।

गौर करने की बात यह है कि यदि आयोग ने परीक्षा के कार्यक्रम को रद करने के निर्देश दिए तो एक बात साफ हो जाएगी कि आयोग इस बीच ही चुनाव कराना चाहता है और यदि आयोग ने परीक्षा कार्यक्रम को यथावत बनाए रखने को हरी झंडी दे दी तो तय है कि चुनाव 20 मार्च के बाद ही होंगे।

परिषद का यह था परीक्षा कार्यक्रम

माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा यूपी बोर्ड की परीक्षा 2017 के गुरुवार दिन में घोषित किए गए कार्यक्रम के मुताबिक परीक्षाएं 16 फरवरी से शुरू होकर 20 मार्च 2017 तक चलनी थी।

हाईस्कूल की परीक्षाएं 16 फरवरी से शुरू होकर 6 मार्च को खत्म होती जबकि इंटर की परीक्षाएं 16 फरवरी से शुरू होकर 20 मार्च तक चलनी थी। विदित हो कि पिछले वर्ष परीक्षा 18 फरवरी को शुरू होकर 21 मार्च को पूरी हुई थी।

राज्य सलाह से बनाएं बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम :

चुनाव आयोग उत्तर प्रदेश, गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड और पंजाब के अधिकारियों को चुनाव आयोग से सलाह-मशविरा के बाद ही बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम तय करने की हिदायत दी गई है। इन्हीं पांच राज्यों ने वर्ष 2017 में विधानसभा चुनाव होने हैं।

चुनाव आयोग के निदेशक निखिल कुमार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि गोवा, मणिपुर और पंजाब विधानसभा का कार्यकाल 18 मार्च को खत्म हो रहा है जबकि उत्तराखंड विधानसभा का कार्यकाल 26 मार्च व उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल 27 मई, 2017 को खत्म होना है।

लोक प्रतिनिधित्व कानून के तहत विधानसभा का कार्यकाल खत्म होने के आखिरी छह महीनों में कभी भी चुनाव कराने का आयोग को अधिकार है।

आदेश में कहा गया है कि आयोग जानता है कि साल की पहली छमाही में परीक्षाएं होती हैं। ऐसे में चुनाव व परीक्षा तारीखों में किसी तरह का टकराव टालने के लिए आयोग चाहता है कि संबंधित राज्यों में विभिन्न बोर्डों की परीक्षा की तिथियां घोषित करने से पहले उनसे राय मश्विरा कर लिया जाए।

आठ दिसंबर को जारी आदेश की प्रतियां उत्तर प्रदेश, गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड व पंजाब के मुख्य सचिवों व मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को भी भेज दी गई है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने गुरुवार को ही अचानक परीक्षा कार्यक्रम घोषित कर दिया, जिसके फौरन बाद चुनाव आयोग ने अधिकारियों को दिल्ली तलब कर लिया है।

अटपटी-चटपटी

  1. लड़की को भारी पड़ी सेल्फी, पुलिस ने ली घर की तलाशी और किया गिरफ्तार

  2. 12 साल का 'बच्चा' चार साल बड़ी लड़की को गर्भवती कर पिता बना

  3. अंडे में निकला हीरा, शादी करने जा रही महिला ने माना शुभ

  4. चार साल के बच्चे ने आईफोन की मदद से बचा ली मां की जान

  5. बच्चे को कलेजे से लगाकर ये चमत्कार कर सकती है मां

  6. रेप के दौरान मदद के लिए नहीं चीखी पीड़िता, इसलिए आरोपी बरी

  7. गेम खेलते हुए गुस्से में कम्प्यूटर स्क्रीन पर दे मारा सिर, फिर...

  8. बचपन में खो दिए थे पैर, अब करेंगे इंग्लिश चैनल पार

  9. विदेशी नस्ल का डॉग OLX पर मंगाया, छीनकर भाग गया

  10. गलत तरीके से सोएंगे, तो जल्दी दिखने लगेंगे बूढ़े

  11. मालिक ने लावारिस छोड़ दिया था लेकिन ये डॉगी अब कर रहा है जॉब

  12. 18 साल बाद मिला खून का रिश्ता, फिर हुआ कुछ ऐसा

  13. लकड़ी का ढेर नहीं ये बंदूकें हैं, चुनाव के दौरान हुई हैं जमा

  14. OMG! अपनी सुंदर बीवियों को कुरूप बना देते हैं यहां के लोग

  15. फोटो शूट के दौरान ट्रैक में फंसी मॉडल, चली गई जान

  16. मुफ्त इलाज करने वाले डॉक्टर ने खाया धोखा, खुद को नहीं बचा सका

  17. जिराफ जैसा बनने के लिए गर्दन में डाले छल्ले, लेकिन फिर हुआ ऐसा

  18. जमीन पर गिरा खाना 5 सेकेंड में उठाकर खाएं तो नहीं है नुकसान

  19. जॉब के लिए नहीं डेटिंग के लिए बनाया मजेदार रिज्यूमे, जरा देखिए

  20. रातों-रात अंबानी-बिड़ला से ज्यादा धनवान हो गया यह शख्स

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.