पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठने से हो सकती हैं कई समस्याएं, जानें इसके बारे मेंUpdated: Tue, 14 Nov 2017 05:53 PM (IST)

कुछ अध्ययनों का दावा है कि यदि आप लंबे समय तक पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठते हैं, तो शरीर का रक्तचाप बढ़ जाता है।

मल्टीमीडिया डेस्क। पैरों पर पैर चढ़ाकर आप भी अक्सर बैठते होंगे। ज्यादातर लोग स्टाइल या आराम के लिए इस तरह बैठ जाते हैं। मगर, कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि इस तरह से बैठना खतरनाक हो सकता है। ब्लडप्रेशर बढ़ने के साथ ही यह वैरीकोज वेन्स जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं के लिए जिम्मेदार हो सकता है। जानते हैं इसके बारे में।

ब्लड प्रेशर पर असर -

कुछ अध्ययनों का दावा है कि यदि आप लंबे समय तक पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठते हैं, तो शरीर का रक्तचाप बढ़ जाता है क्योंकि इस तरह से बैठने पर तंत्रिकाओं पर दबाव बनता है। इसलिए लंबे समय तक इस तरह से बैठने से बचना चाहिए।

खून के दौड़ान पर पड़ता है असर -

क्रॉस-लेग्गड यानी पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठने से शरीर में खून के दौड़ान पर भी असर पड़ता है। इसका कारण यह है कि जब आप एक पैर पर दूसरा पैर चढ़ाकर बैठते हैं, तो यह हृदय में काफी मात्रा में रक्त पंप करता है। इससे यह शरीर में खून के दौड़ान पर नकारात्मक प्रभाव डालता है।

स्पाइडर वेन्स या वैरिकोस वेन्स -

लंबे समय तक इस मुद्रा में बैठने से स्पाइडर वेन्स या वैरिकोस वेन्स के विकासित होने की आशंका बढ़ जाती है। पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठने से पैरों में झुनझुनाटह या इरिटेशन होता है। दरअसल, जब आप पैरों पर पैर चढ़ाकर बैठते हैं, तो नसों पर दबाव बढ़ जाता है और इससे रक्त का प्रवाह प्रभावित होता है, जिससे ये दो स्थितियां बनती हैं।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.