हैवानियतः काले जादू के लिए 3 साल की बच्ची के शरीर में घुसाई सुइयां, मरता हुआ छोड़कर भागाUpdated: Thu, 20 Jul 2017 02:18 PM (IST)

बच्ची को पहले नाजुक हालत में शनिवार को बंकुरा सम्मिलानी मेडिकल कॉलेज में लाया गया। उसकी चोटों को देखते हुए डॉक्टरों को कुछ असमान्य लगा।

कोलकाता। दिल दहला देने वाला एक मामला कोलकाता में सामने आया है। यहां के एसएसकेएम अस्पताल में डॉक्टरों ने तीन साल की बच्ची का ऑपरेशन कर उसके शरीर से 7 सुइयां निकालीं। बताया जा रहा है कि ये सुइयां करीब चार इंच तक लंबी थीं।

रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि बच्ची की मां जिस आदमी के घर में काम करती थी, उसने बच्ची के साथ रेप भी किया था, जिसकी वजह से उसे गंभीर चोटें लगी हैं। माना जा रहा है काले जादू करने के लिए बच्ची को वू-डू डॉल की तरह यूज किया गया। बच्ची का दो घंटे तक ऑपरेशन तक चला और उसे 48 घंटों के लिए आईसीयू में रखा गया।

बच्ची को पहले नाजुक और सहमी हुई हालत में शनिवार को बंकुरा सम्मिलानी मेडिकल कॉलेज में लाया गया। उसकी चोटों को देखते हुए डॉक्टरों को कुछ असमान्य लगा और उन्होंने बच्ची को एसएसकेएम रिफर कर दिया। रेप के कारण बच्ची डरी हुई थी और उसके शरीर पर कई घाव थे, जिनमें से कई सुइयों को चुभोए जाने के कारण हुए थे।

मंगलवार को ऑपरेशन के वक्त डॉक्टर उसके शरीर में 7 सुइयां देख हैरान रह गए। सुइयां इतनी अंदर तक घुसाई गई थीं कि उसके शरीर के कई अंगों में छेद हो गए थे। बच्ची इतनी डरी हुई थी कि उसके इलाज के लिए डॉक्टरों ने उसके स्थिर होने तक इंतजार करना बेहतर समझा।

ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि देश में काले जादू के नाम पर हर रोज छोटे बच्चे-बच्चियों के साथ छेड़-छाड़, रेप, नरबलि की खबरें सामने आती रहती हैं। हालांकि, कई लोग इसे दूर करने के लिए अभियान चलाते रहते हैं, लेकिन अभी भी यह कुरीति समाज में फैली हुई है। साल 2013 में इन कुरीतियों के खिलाफ काम करने वाले नरेंद्र दाभोलकर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

संबंधित खबरें

जरूर पढ़ें

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.