Live Score

मैच रद मैच समाप्‍त : मैच रद

Refresh

गृह मंत्री का कश्मीर दौरा: वार्ता के लिए खुली दावतUpdated: Tue, 23 Aug 2016 08:59 PM (IST)

इंसानियत, जम्हूरियत और कश्मीरियत में विश्वास रखने वाले सभी लोगों को वार्ता की खुली दावत दी।

श्रीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को वादी में हालात सामान्य बनाने के लिए इंसानियत, जम्हूरियत और कश्मीरियत में विश्वास रखने वाले सभी लोगों को वार्ता की खुली दावत दी।

इसके अलावा उन्होंने कश्मीर के आंतरिक सुरक्षा परिदृश्य का जायजा लेते हुए सुरक्षाबलों को आम लोगों की सुरक्षा यकीनी बनाने और प्रदर्शनों के दौरान संयम बरतने के साथ शरारती तत्वों के खिलाफ कठोर कदम उठाने के निर्देश भी दिए।

कश्मीर घाटी के दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को श्रीनगर पहुंचे राजनाथ ने प्रमुख विपक्षी दल नेशनल कांफ्रेंस के कार्यवाहक अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला, राज्यपाल एनएन वोहरा के अलावा भाजपा और पीडीपी के प्रतिनिधिमंडलों से भी मुलाकात कर मौजूदा हालात पर चर्चा की।

कश्मीर घाटी में आठ जुलाई को आतंकी कमांडर बुरहान की मौत के बाद उत्पन्न हालात को सामन्य बनाने के प्रयासों के तहत राजनाथ सिंह का एक माह में यह दूसरा कश्मीर दौरा है। इससे पहले वह 23-24 जुलाई को कश्मीर आए थे।

राजनाथ सिंह के साथ केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि व अन्य केंद्रीय अधिकारी भी आए हैं। राजनाथ ने वादी में तैनात सभी वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों, राज्य पुलिस के आला अधिकारियों, केंद्रीय व राज्य की खुफिया एजेंसियों के प्रमुख अधिकारियों, केंद्रीय अर्धसैनिकबलों के वरिष्ठ अधिकारियों, केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारियों, राज्य प्रमुख सचिव, राज्य गृह सचिव व अन्य अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता की।

यह बैठक दो घंटे तक जारी रही। इसमें संबंधित अधिकारियों ने गृह मंत्री को वादी में गत डेढ़ माह से व्याप्त हालात से अवगत कराते हुए बताया कि स्थिति में सुधार हो रहा है। कुछ अपवादों को छोड़ हिसाचक्र भी कमजोर पड़ रहा है।

सूत्रों ने बताया कि गृह मंत्री ने विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों और नागरिक प्रशासन व राज्य सरकार में व्यापक समन्वय पर जोर देते हुए कहा कि प्रदर्शनकारियों पर बल प्रयोग के दौरान अत्यधिक संयम बरतें। उन्होंने विघटनकारी व शरारती तत्वों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए हिसा व अशांति फैलाने की हर कोशिश को नाकाम बनाने के लिए भी कहा।

इससे पूर्व नई दिल्ली से श्रीनगर रवाना होते ही उन्होंने ट्वीट कर कश्मीर में हालात सामान्य बनाने के लिए सभी को बातचीत की खुली दावत दी। उन्होंने कहा कि इंसानियत, जम्हूरियत व कश्मीरियत में यकीन रखने वालों का बातचीत के लिए स्वागत है।

अटपटी-चटपटी

FOLLOW US

Copyright © Naidunia.